दिल्ली के चिड़ियाघर में चलाया जाएगा इंटर्नशिप प्रोग्राम, जानवरों को भी लिया जा सकेगा गोद

नई दिल्ली | राष्ट्रीय राजधानी स्थित चिड़ियाघर में मान्यता प्राप्त संस्थान या विश्वविद्यालय से स्नातक और स्नातकोत्तर कर रहे हैं या पूरा कर चुके छात्रों के लिए इंटर्नशिप प्रोग्राम चलाया जाएगा. राष्ट्रीय प्राणी उद्यान (चिड़ियाघर) स्नातक व स्नातकोत्तर विद्यार्थियों के लिए यह प्रोग्राम चलाया जाएगा. अब जीव-जंतु, पेड़- पौधे में रूचि रखने वाले, इनकी प्रजातियों का संरक्षण करने और चिड़ियाघर प्रबंधन सीखने के इच्छुक विद्यार्थियों को चिड़ियाघर से इंटर्नशिप करने का विकल्प चुनने का अवसर मिलेगा.

Zoo ChidiyaGhar

पहली बार किया जा रहा ऐसा कार्यक्रम

इस बारे में जानकारी देते हुए चिड़ियाघर के निदेशक संजीत कुमार ने बताया कि यहाँ इस तरह का कार्यक्रम पहली बार शुरू किया जा रहा है. बहुत से विद्यार्थी जो जीव-जंतु, पेड़- पौधों के क्षेत्र में शोध पर काम कर रहे हैं, उनके लिए शोध से संबंधित विशेष कार्यक्रम शुरु किया जाएगा.

इंटर्नशिप 30 दिन से 3 महीने के बीच की होगी, जिसमें जानवरों के व्यावहारिक अध्ययन, पारिस्थितिकी तंत्र सेवाओं का आर्थिक मूल्यांकन, आगंतुकों का सर्वेक्षण, जैव विविधता, ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन पर अध्ययन समेत अनेक विषयों को शामिल किया जाएगा. जल्दी ही इसके बारे में डिटेल योजना को तैयार करके साझा किया जाएगा.

शुरू की जाएगी स्वयंसेवक योजना

निदेशक ने जानकारी दी कि बहुत से आगंतुक चिड़ियाघर में अक्सर आते रहते हैं. उन्हें चिड़ियाघर से जोड़ने के लिए स्वयंसेवक योजना की शुरुआत की जाएगी. इसके बाद वह यहां आकर कुछ नया सीखेंगे और अपना योगदान भी दे पाएंगे. स्कूली छात्रों के लिए ग्रीष्म शिविर लगाने का काम भी किया जाएगा, ताकि विद्यार्थी यहां आकर खूब मस्ती करें और अपनी छुट्टियों को यादगार बन सके.

जानवरों को लिया जा सकेगा गोद

वन्यजीवों के संरक्षण के लिए चिड़ियाघर में जानवरों को गोद लेने की योजना चलाई जा रही है. इसके तहत पशु प्रेमी, जानवरों को 1 वर्ष की अवधि तक गोद ले सकते हैं. इस दौरान जानवरों के खानपान और रखरखाव का खर्च इन्हें खुद ही उठना होता है.

पशु प्रेमियों द्वारा दिए गए यह रुपए सीधे जानवरों के हित के लिए प्रयोग हों, इसके लिए चिड़ियाघर प्रशासन द्वारा एक पंजीकृत समिति बनाने की योजना पर काम किया जा रहा है. ज्यादा से ज्यादा लोग जानवरों के संरक्षण के लिए दान देने में आगे आए, इसके लिए विशेष अभियान भी चलाया जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!