पानीपत नहर में गिरी युवती, हरियाणा पुलिस के हेड कांस्टेबल ने बाहर निकाल बचाई जान

पानीपत । पानीपत पुलिस के एक हेड कांस्टेबल ने अपनी जान की परवाह किए बगैर नहर में छलांग लगाकर एक नवयुवती की जान बचाई. हालांकि जब तक उसे बाहर निकाला गया, युवती बेहोश हो चुकी थी. अपने स्तर पर प्राथमिक उपचार करने के बाद युवती को हस्पताल लें जाया गया जहां युवती की हालत बिल्कुल ठीक बताई जा रही है. अपनी बेटी को कुशल देखकर मां की आंखों से खुशी के आंसू छलक आए. मामला असंध रोड नहर का है. हेड कांस्टेबल धर्मपाल की बहादुरी पर वहां मौजूद लोगों ने तालियां बजाकर उनका स्वागत किया.

यह भी पढ़े -   कैथल में 13 साल की बच्ची के साथ आठ युवकों ने नशीला पदार्थ पिलाकर किया गन्दा काम

panipat news

महावीर कालोनी निवासी 16 वर्षीय शारदा अपनी मां मंजू के साथ सैर करने जा रही थी. सामने से तेज रफ्तार गाड़ी आती देख दोनों मां- बेटी नहर की पटरी के किनारे पर खड़ी हो गई. अचानक संतुलन बिगड़ने से शारदा नदी में गिर गई. पानी का बहाव तेज होने के कारण वह नदी में बहकर काफी दूर तक चली गई.

यह भी पढ़े -   करनाल के कल्पना चावला अस्‍पताल में लगी आग, कोविड मरीजों और परिजनों में मचा हड़कंप

चीखने लगी मां

मां के चीखने की आवाज सुनकर लगभग 200 मीटर की दूरी पर असंध रोड नहर नाकें पर ओल्ड इंडस्ट्रियल थाना में तैनात हेड कांस्टेबल धर्मपाल ने उसी समय बिना देरी किए नहर में छलांग लगा दी. धर्मपाल ने नहर के बीच से लड़की को बाहर निकाला. लड़की की मां ने हेड कांस्टेबल धर्मपाल का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि आप हमारे लिए भगवान बनकर आए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!