पानीपत में तैयार हुआ हरियाणा का दूसरा ऑटोमेटिक सब स्टेशन, जानिए क्या होगा फायदा

पानीपत | हरियाणा के पानीपत में दूसरा मैनलेस ऑटोमेटिक सबस्टेशन बनकर तैयार हो चुका है. प्रदेश के दूसरे मैनलेस ऑटोमेटिक 33 केवी सबस्टेशन में फ्रांस की प्रचलित इलेक्ट्रिक कंपनी के उपकरणों को लगाया गया है. इस कंपनी के उपकरण काफी अच्छे माने जाते हैं.

Electricity Board

आपको बता दें कि हरियाणा के पानीपत की अनाज मंडी में तकरीबन 12 करोड़ की लागत से 33kv सबस्टेशन बनाया गया है.  यह  सबस्टेशन हरियाणा राज्य का दूसरा मैनलेस ऑटोमेटिक सब स्टेशन है. ऐसे आसार हैं  कि इसी सप्ताह से इस सब स्टेशन से बिजली मिलने प्रारंभ हो जाएगी.  इस सब स्टेशन पर कोई भी कर्मचारी मौजूद नहीं होगा, यह पूर्ण रुप से मैनलेस होगा. सब स्टेशन पर केवल एक  चौकीदार तैनात किया जाएगा.  केवल एक ऑपरेटर सर्कल कार्यालय से ऑपरेट करेगा.

जाने क्या है सब स्टेशन की विशेषता

सर्कल में बहुत सारे सामान्य स्टेशन चलते है किंतु सामान्य सब स्टेशनों की तुलना में मैनलेस ऑटोमेटिक सब स्टेशन में काफी समानताएं हैं. ऑटोमेटिक सब स्टेशन की खासियत यह है कि फीडर की लाइन में कोई फाल्ट होता है तो उसकी लोकेशन का तुरंत पता लगाया जा सकता है. जबकि सामान्य सब स्टेशन में यह सुविधाएं उपलब्ध नहीं होती कर्मचारियों को ढूंढना पड़ता है कहां फाल्ट हुआ है.

फाल्ट की लोकेशन के पता लगने के फलस्वरूप ऑटोमेटिक सब स्टेशन में इसे जल्द ठीक किया जा सकता है. ऑटोमेटिक सब स्टेशन में पूरा कंट्रोल पैनल गैस इंसुलेटेड सबस्टेशन पर आधारित है. वीसीबी ऑटोमेटिक काम करेगी. यदि लाइन में कोई फॉल्ट आता है तो यह तुरंत डाउन हो जाएगी. इसे सर्कल कार्यालय से एक ही कर्मचारी चला सकेगा. जबकि सामान्य सब स्टेशन में दो शिफ्ट में कर्मचारियों की आवश्यकता पड़ती है. जबकि ऑटोमेटिक सब स्टेशन में कर्मचारियों की काफी कम आवश्यकता होती है.

यह भी पढ़े -   दिसंबर में 12 दिन बैंक रहेंगे बंद, आरबीआई ने जारी की छुट्टियों की लिस्ट

फ्रांस की कंपनी के उपकरण लगाएं

हरियाणा के दूसरे मैनलेस ऑटोमेटिक 33kv सबस्टेशन में फ्रांस की श्र्नाइडर इलेक्ट्रिक कंपनी से अच्छी उपकरण मंगाए गए हैं जिनका प्रयोग इस सब स्टेशन में किया गया है. इस कंपनी के उपकरणों को क्वालिटी के रूप से काफी अच्छा माना जाता है.

जानिए कितना आया निर्माण खर्च

आपको बता दें कि सामान्य सबस्टेशन के मुकाबले इस ऑटोमेटिक सब स्टेशन में जहां सुविधाएं ज्यादा होगी वहीं इसकी लागत में भी सामान्य की तुलना में कई गुना ज्यादा खर्च आया है अधिकारियों के अनुसार सामान्य सब स्टेशन के निर्माण में करीब 3 करोड़ की लागत आती है वहीं दूसरी ओर इस ऑटोमेटिक सब स्टेशन में तकरीबन 12 करोड रुपए की लागत लगी है. उक्त सब स्टेशन से सेक्टर 25, अनाज मंडी, अनाज मंडी एरिया, विकास नगर, हुड्डा, शिव नगर तथा आईटीआई एरिया सहित आठ फीडरों को जोड़ा जाएगा.

यह भी पढ़े -   बढ़ती महंगाई का असर रूई पर भी पड़ा, जानिए क्या है कारण

जानिए कब से चालू होगा ऑटोमेटिक सब स्टेशन

एसई एसएस ढुल ने जानकारी दी है कि नई अनाज मंडी स्थित मैनलेस ऑटोमेटिक 33kv सबस्टेशन बनकर तैयार है 1 से 2 दिन के अंदर उसे ट्रायल के तौर पर चालू किया जाएगा जिसके बाद विद्रोह की लाइन को छोड़कर वहां से सप्लाई चालू कर दी जाएगी सर्कल में यह प्रोजेक्ट सफल हुआ तो ऐसे अन्य सब स्टेशन भी जल्द लगाए जाएंगे. जिसके फलस्वरुप प्रदेश में सब स्टेशनों की संख्या में भी बढ़ोतरी होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!