पंजाब में सत्ता परिवर्तन के बीच हरियाणा के पूर्व CM हुड्डा ने बुलाई विधायक दल की बैठक, जानिए बड़ी वजह

चंडीगढ़ । उत्तराखंड, कर्नाटक और गुजरात के बाद अब पंजाब में भी सत्ता परिवर्तन हो चुका है. पंजाब कांग्रेस के बड़े चेहरे कैप्टन अमरिंदर सिंह को हटाकर चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया है. इसी बीच हरियाणा में भी अब गहमागहमी देखने को मिली है. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुडा ने बुधवार को विधायक दल की बैठक बुलाई है. पंजाब की राजनीति के जाने-माने कैप्टन को राजनीति से किनारे कर देने के बड़े फैसले के बीच यह बैठक बड़ी अहम मानी जा रही है.

हरियाणा

इस बैठक में हालांकि तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में चल रहे किसान संगठनों के आंदोलन, व अन्य सामाजिक मसलों पर चर्चा होनी है. लेकिन मुख्य एजेंडा पंजाब में हाईकमान के फैसले से उपजे हालात पर हरियाणा के लिहाज से चर्चा की जानी है, साथ ही कांग्रेस विधायक दल की बैठक में हरियाणा की राजनीति पर चर्चा होनी है. पंजाब में सत्ता परिवर्तन के बीच हरियाणा की राजनीति पर गहरा प्रभाव पड़ा है. पंजाब की राजनीति से कैप्टन को किनारे लगा देना लोगों को भा नहीं रहा है.

यह भी पढ़े -   कार्यसमिति बैठक में सोनिया गांधी के रुख ने साफ की हरियाणा कांग्रेस की तस्वीर, कुमारी शैलजा बनी रहेगी प्रदेश अध्यक्ष

वहीं हरियाणा कांग्रेस के विधायक दल के नेता यानी हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा 3 दिन के प्रवास पर चंडीगढ़ में डेरा डालने वाले हैं. 22 सितंबर की दोपहर तक वो चंडीगढ़ पहुँच जाएंगे और इसी बीच उन्होंने अपने निजी आवास सेक्टर सात पर विधायक दल के तमाम नेताओं को बुला लिया है. भूपेंद्र सिंह हुडा ने विधायकों को भेजे गए संदेश में साफ तौर पर नहीं बताया है, लेकिन हो सकता है भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार के विरुद्ध आंदोलन की रणनीति में बदलाव कर दिया जाए.

कांग्रेस ने पंजाब में राजनीतिक हस्ती कैप्टन अमरिंदर सिंह को किनारे करने में ज़रा सी भी चूक नहीं की और चरणजीत सिंह चन्नी पर दांव खेला, ऐसे में साफ है कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी अपनी रणनीति बदलें. लेकिन कहा ये भी जाता है कि भूपेंद्र सिंह हुडा राजनीति की काया पलटने का हुनर रखते हैं. वो बड़े तेज स्वभाव के आदमी हैं, यानी राजनीति में बड़े बड़े विद्वानों को पटखडी देते हैं.

यह भी पढ़े -   ऐलनाबाद उपचुनाव में जबरदस्त होगा चुनावी रण, दिग्गजों के बीच होगा कांटे का मुकाबला

गौरतलब है पंजाब में सत्ता परिवर्तन के बाद अब हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुडडा को बेचैनी होने लगी है. इसी बीच उन्होंने चंडीगढ़ अपने निजी आवास पर विधायक दल की बैठक बुलाई है. इस दौरान वो तीन दिन तक चंडीगढ़ में ही रहेंगे. बैठक को लेकर उन्होंने साफ संदेश अभी नहीं दिया है, लेकिन अब दिलचस्प ये होगा कि बैठक में क्या फैसला होता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!