रोहतक चौहरा हत्याकांड में अभिषेक ने की थी सिर पर गोली मारने की रिहर्सल, इस हत्याकांड में हो रहे हैं हर दिन नए खुलासे

रोहतक । रोहतक के विजयनगर में हुए खूनी खेल में गिरफ्तार किए गए आरोपी मोनू से पूछताछ में आए दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं. अब एसआईटी को पता चला है कि उसने कैसे निशाना साध कर चारों को मौत के घाट उतारा था. बता दे कि उसने खुलासा किया कि इससे पहले वह कई बार एकांत जगह में सिर पिस्तौल चला कर निशाना लगाने की रिहर्सल किया करता था. जब उससे लगा कि अब वह निशाना लगा सकता है तो उसने पूरी प्लानिंग के साथ इस वारदात को अंजाम दिया.

यह भी पढ़े -   शर्मनाक: दिल्ली पुलिस के जवान की हैवानियत, 3 बेटियां होने पर पत्नी को दिया ज़हर

rohtak murder news 5

रोहतक चौहरा हत्याकांड में आए दिन हो रहे हैं नए खुलासे

अभिषेक अपने पिता की पिस्तौल का प्रयोग बार-बार करता था. इसलिए पुलिस जानना चाहती है कि उसने कहां-कहां पर जाकर फायरिंग की. वही वारदात के दौरान सभी मृतकों के सिर में गोली मिलने पर  एक्सपर्ट द्वारा आशंका जताई गई थी कि किसी शूटर से इस वारदात को अंजाम दिलवाया गया है. अभिषेक के खुलासे के बाद एसआईटी उसे ही मुख्य आरोपी मानकर इस मामले की जांच कर रही है. बता दें कि आरोपी कोर्ट से 5 दिन की रिमांड पर है. उसे रविवार को कोर्ट में पेश कर दोबारा रिमांड पर लिया जा सकता है.

यह भी पढ़े -   भिवानी के देवसर गांव में गिरी आसमानी बिजली, दो लोगों की मौके पर मौत 4 घायल

वही अभी तक इस मामले में किसी दूसरे आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. पुलिस ने अभिषेक के दोस्त के पास से कार भी बरामद की है, जिसे वह ₹5 लाख साथ ले जाने के लिए मांग कर लाया था. अभिषेक के दोस्त को क्लीन चिट देने की तैयारी चल रही है. वहीं पुलिस की पूछताछ में मोनू ने इस बात को स्वीकारा कि वह इस वारदात को अंजाम देने के लिए सही समय का इंतजार कर रहा था.

वह चाहता था कि उसकी नानी वापस चली जाए और वह उसका शिकार बनने से बच जाए, परंतु वह वापिस नहीं गई,  उसे सही समय मिल गया. जिससे वह इस वारदात को अंजाम दे सके. पुलिस ने मोनू के साथ होटल में ठहरने वाले उसके दोस्त से भी कई दिनों तक पूछताछ की. पुलिस को अभिषेक के खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिला है उससे केवल पूछताछ की जा रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!