पिता के लिए 2.15 लाख रुपए में खरीदे रेमड़ेसिविर इंजेक्शन, घर पहुंचने से पहले पिता की मौत और फिर ……

सोनीपत । हरियाणा के सोनीपत में विशाल नगर के रहने वाले जूते व्यापारी को रेमड़ेसिविर के 6 इंजेक्शन 2.15 लाख रूपये में बेचने का मामला सामने आया है. पीड़ित ने घर में आइसोलेट अपने पिता के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले युवक से इंजेक्शन खरीदे थे. जब तक इंजेक्शन लेकर वह घर पहुंच पाता, उससे पहले उसके पिता की मौत हो चुकी थी. बाद मे उन्होंने आरोपी को इंजेक्शन वापिस कर दिए. आरोपी ने उसे पैसे वापस देने को कहा था, लेकिन बाद में उसने पैसे वापस नहीं दिए. उसके बाद पीड़ित ने मामले की शिकायत मुरथल पुलिस को की.

यह भी पढ़े -   शराब के नशे में हैड कांस्टेबल ने की महिला से छेड़छाड़, केस दर्ज

REMDESAWAR INJECTION

इंजेक्शन लेकर घर पहुंच पाता उससे पहले हुई पिता की मौत 

विशाल नगर के रहने वाले जगपाल ने मुरथल थाना पुलिस को बताया कि वह जूतों का व्यापार करता है. उनके पिता बिरेंद्र सिंह कोरोना संक्रमित हो गए थे. उन्हें कही भी अस्पताल में बेड नहीं मिला, जिसकी वजह से उनका इलाज घर में ही किया जा रहा था. चिकित्सक की सलाह पर उनका उपचार किया जा रहा था. 4 मई को उनके पिता की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई. डॉक्टर ने उन्हें रेमडेसीविर इंजेक्शन लेकर आने को कहा. उसके बाद उन्होंने सरकारी व निजी मेडिकल स्टोर पर इसकी तलाश शुरू कर दी. उन्हें कहीं भी यह इंजेक्शन नहीं मिला.

तब किसी ने उसे मुरथल के प्रवीण कुमार का मोबाइल नंबर देते हुए कहा कि यह इंजेक्शन उपलब्ध करा सकता है. तब उसने प्रवीण से बात की तो उसने इंजेक्शन देने के लिए उसे ओमैक्स सिटी में बुला लिया. उसने 6 इंजेक्शन के लिए 2.15 लाख रुपए की मांग की थी. जबकि इंजेक्शन पर प्रिंट रेट 3490 रुपए था. उसने अपने पिता की जान बचाने के लिए इंजेक्शन खरीद लिया.

यह भी पढ़े -   करनाल में हैवानियत की हदें पार, चोरी के शक में एक युवक को पेड़ से उल्टा लटका घंटों तक पीटा

पैसे मांगने पर पीड़ित को जान से मारने की धमकी

जब इंजेक्शन लेकर घर पहुंचा तो उसके पिता की मौत हो चुकी थी. उसने पहले अपने पिता का अंतिम संस्कार कराया. उसके 2 दिन बाद उसने प्रवीण को फोन किया और उसी स्थान पर बुलाया. उसने उसे सभी इंजेक्शन ले लिए और पैसे बाद में देने को कहा. उसने प्रवीण से फोन पर पैसे वापस करने को कहा, लेकिन उसने पैसे वापस नहीं किए. उल्टा वह उसे जान से मारने की धमकी देने लगा. तब पीड़ित ने इसकी शिकायत मुरथल थाना पुलिस मे करवाई . पुलिस ने सोमवार रात को परवीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. इस मामले की जांच सीआईए -1 टीम को सौंप दी गई. वह पहले ही रेमड़ेसिविर की कालाबाजारी की जांच कर रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!