प्रोत्साहन: बाजरे की जगह मूंग बोने वाले किसानों को मिलेंगे चार हजार रुपए, बीज भी मिलेगा फ्री

Casino

गोहाना । कृषि एवं किसान कल्याण विभाग किसानों को धान व बाजरे की जगह दूसरी फसलों की बिजाई करने के लिए जागरूक कर रहा है. ‘मेरा पानी मेरी विरासत’ योजना के अंतर्गत किसानों को प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की जा रही है. विभाग द्वारा किसानों को बाजरे की जगह मूंग की खेती की बिजाई के लिए बीज फ्री में उपलब्ध करवाया जाएगा. उपमंडल क्षेत्र में किसानों को 118 एकड़ भूमि पर मूंग की खेती के लिए फ्री बीज मिलेगा.

यह भी पढ़े -   सरकार की इस योजना से बदलेगी गांवों की तस्वीर, कई हजार करोड़ की प्रॉपर्टी होंगी लीगल

KISAN 2
दी जा रही है प्रोत्साहन राशि

‘मेरा पानी मेरी विरासत’योजना के अन्तर्गत कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा दो तरह की योजनाएं चलाई जा रही है. धान की बजाय कपास एवं मक्का की खेती करने वाले किसानों को प्रति एकड़ 7 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. वहीं बाजरे की खेती छोड़ कर मूंग,अरहर,अरंड आदि उगाने वाले किसानों को बीज पर 90% सब्सिडी और 4 हजार रुपए प्रति एकड़ प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. सरकार की योजना का लाभ फसल उगाने पर अधिकारियों के सत्यापन के बाद ही मिल पाएगा.

यह भी पढ़े -   मुरथल के ढाबों पर अब गैरकानूनी कार्य करने वालों की खैर नहीं, पुलिस ने तैयार की विशेष रणनीति

किसानों को मूंग की बिजाई करने को लेकर प्रोत्साहित करने के लिए विभाग द्वारा कुछ किसानों को फ्री में बीज दिया जा रहा है.
गोहाना खंड के कृषि अधिकारी डॉ राम कंवार देशवाल ने गांव वजीरपुरा के किसान सुरेश , खेड़ी के कृष्ण व जौली के सुरेन्द्र को फ्री में मूंग का बीज दिया. कृषि अधिकारी ने कहा कि धान की फसल में पानी की खपत बहुत ज्यादा होती है. किसान धान की बजाय दूसरी फसलों को प्राथमिकता दें. बाजरे की जगह दाल की खेती करें. इस अवसर पर कृषि विकास अधिकारी डॉ कुलदीप, सहायक तकनीकी प्रबंधक ज्योति व पिंकी मौजूद रहे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!