फैमिली आईडी में परिवारों की 25 हजार से कम आय प्रशासन को नहीं हो रही हजम, होगी जांच

हिसार । प्रदेश सरकार जनता को सुविधाएं देने के लिए तरह-तरह की योजनाएं लागू करती है, लेकिन कुछ लोग इन योजनाओं में झूठी जानकारी देकर योजनाओं का लाभ लेने के लिए नियमों से खिलवाड़ करते हैं. एडीसी अनिल यादव सोमवार को नगर परिषद कार्यालय पहुंचे और 25 हजार रुपए से कम आय दिखाने वाले लोगों की फैमिली आईडी जांच करने के निर्देश दिए.

FAMILY ID

बता दें कि हांसी उपमंडल में करीब 70 हजार परिवार पहचान पत्र बने हैं. अब सरकार ने कई सामाजिक सुरक्षा की योजना को परिवार पहचान पत्र से जोड़ा है. कुछ लोगों द्वारा फैमिली आईडी में बेहद कम आय दिखाई गई है. ऐसे में इन परिवारों की आय को लेकर प्रशासन संदेह में है और इसी के मद्देनजर प्रशासन ने इनकी जांच कराने का क़दम उठाया है. नगर परिषद पहुंचे एडीसी अनीष यादव ने स्पष्ट किया कि जिन लोगों ने अपनी आमदनी 25 हजार से कम लिखाई है , उनकी जांच के लिए टीम गठित की जाएगी.

यह भी पढ़े -   हिसार के इस गांव में एक दिन में सात लोगों की मौत, ग्रामीणों में दहशत

इस मौके पर टीम लीडर बीएलओ ,सक्षम युवा समेत अन्य कर्मचारी मौजूद थे. एडीसी ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में काम को प्रमुखता से पूरा करने के लिए बूथ व वार्ड स्तर पर टीम बनाई गई है. साथ ही फैमिली मैपिंग भी की जाएगी ताकि कोई परिवार बिना पहचान पत्र के ना रहे.

यह भी पढ़े -   मुख्यमंत्री हिसार में करेंगे आज 500 बेड के अस्पताल का उद्घाटन, विरोध की तैयारी में जुटे किसान

इनकम सर्टिफिकेट भी फैमिली आईडी से जुड़ा

सरकार ने इनकम सर्टिफिकेट आवेदकों को सीधे फैमिली आईडी से जोड़ दिया है. आवेदन करते ही पोर्टल द्वारा सीधे संबंधित परिवार की फैमिली आईडी से डाटा उठा लिया जाता है. ऐसे में जिन परिवारों ने बेहद कम आय दिखाई है,उन सभी पहचान पत्रों की जांच होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!