विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर हरियाणा के मुख्यमंत्री ने लांच की ‘प्राण वायु देवता’ पेंशन योजना, जाने विस्तार से

करनाल । मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पर्यावरण दिवस के मौके पर कहा कि प्राकृतिक ऑक्सीजन को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश में एक साल में 3 करोड़ पेड़ लगाए जाएंगे. प्रदेश की आठ लाख एकड़ पंचायत भूमि में से 10% भूमि पर पेड़ -पौधे लगाए जाएंगे,जिसका नाम ऑक्सी- वन होगा. इस दौरान एक वर्ष में लगें सभी पेड़ों का नाम भी ऑक्सी वन रखा जाएगा.

haryana cm press conference

मुख्यमंत्री ने बताया कि ‘प्राण वायु देवता ‘ के नाम से 75 वर्ष से अधिक आयु के वृक्षों के रखरखाव के लिए 2500 प्रतिवर्ष पेंशन दी जाएगी. इस पेंशन राशि में भी बुढ़ापा सम्मान पेंशन की तरह हर साल बढ़ोतरी की जाएगी. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि’ प्राण वायु देवता पेंशन ‘ योजना एक अनूठी और भारत में अपनी तरह की पहली योजना होगी.

उन्होंने कहा कि इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार ने उन सभी पेड़ों को सम्मानित करने की पहल की है जो 75 वर्ष या उससे ज्यादा आयु के हैं और जिन्होंने ताउम्र ऑक्सीजन का उत्पादन करके , प्रदुषण कम करने व छाया आदि प्रदान करके मानवता की सेवा करने का काम किया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे प्रदेश भर से ऐसे पेड़ों की पहचान की जाएगी और स्थानीय लोगों को इस योजना में सम्मिलित करके इन पेड़ों की देखभाल का जिम्मा सौंपा जाएगा.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के किसानों की बल्ले-बल्ले,अब बाजरे की खेती छोड़ने पर मिलेंगे प्रति एकड़ चार हजार रुपए

मुख्यमंत्री ने बताया कि जो भी किसान एग्रो फोरेस्ट्री के तहत अपनी जमीन पर 400 पेड़ लगाता है तो उसे हरियाणा सरकार अब 7000 हजार रुपए की जगह 10000 रुपए तीन वर्ष तक देंगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि वृक्षों के बचाव में ही जिंदगी है और इसके लिए ऐसे सेवक जो वृक्षों का रख-रखाव करते हैं,उनका मान-सम्मान हों.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!