UP पंचायत चुनावों में सफलता से उत्साहित हो गयी हरियाणा भाजपा, जानिए क्या है बड़ी वजह

Casino

चंडीगढ़ ।  उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में मिली सफलता से हरियाणा भाजपा खासी उत्साहित है. तीन कृषि कानूनों के विरोध में 7 महीनों से चल रहे किसान संगठनो के आंदोलन के बावजूद पंचायत चुनाव में मिली सफलता को भाजपा भविष्य के लिए अच्छे संकेत के रूप में देख रही है. हरियाणा में भी सितंबर-अक्टूबर में पंचायत चुनाव प्रस्तावित हैं. भाजपा को लग रहा कि उत्तर प्रदेश की सफलता का असर हरियाणा में भी दिखाई देगा.

BJP

उत्तर प्रदेश में 75 जिला परिषद के लिए हुए चुनाव में भाजपा ने 67 सीटों पर जीत हासिल की है. सीएम मनोहर लाल खट्टर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़, गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज तथा पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने अलग अलग बयान तथा ट्वीट में भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बधाई दी है. मनोहर लाल ने ट्वीट के जरिए कहा कि उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनाव में मिली सफलता मेहनती बूथ कार्यकर्ताओं तथा मजबूत संगठन की जीत है.

गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने ट्वीट में कहा कि भाजपा की जीत से पंचायती राज़ व्यवस्था को अधिक मजबूती मिलेगी. प्रदेश में पढ़ी लिखी पंचायतों की व्यवस्था देने वाले हरियाणा भाजपा के अध्यक्ष एवं पूर्व पंचायतीराज मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि प्रदेश में जब भी चुनाव होंगे, तो यहाँ भी पार्टी को पूरी सफलता मिलेगी. पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि उत्तर प्रदेश में पार्टी को मिली सफलता ने साबित कर दिया है, कि तीन कृषि कानूनों के विरोध में चल रहा आंदोलन राजनीति से प्रेरित होने के अलावा कुछ नहीं है.

यह भी पढ़े -   काला पानी: हरियाणा और राजस्थान के लोग आमने-सामने, खोद डाला नेशनल हाईवे

हरियाणा में सितंबर या अक्टूबर में पंचायत और शहरी निकाय चुनाव होने प्रस्तावित हैं. मुख्यमंत्री मनोहर लाल पहले ही कह चूके हैं, कि हाईकोर्ट में 22 अगस्त को सुनवाई के बाद जो भी फैसला आएगा उसके आधार पर तय किया जाएगा कि पंचायत चुनाव कब होने हैं. 22 जिला परिषदों के चुनाव को लेकर खासी आपाधापी रहने की संभावना है. प्रदेश सरकार ने जिला परिषदों को यहां काफी पावरफुल कर रखा है.

यह भी पढ़े -   बेरोजगारों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब हरियाणा के युवाओं को घर के पास ही मिलेगा रोजगार

हरियाणा में 44 शहरी निकायों के चुनाव भी प्रस्तावित है. राज्य चुनाव आयोग के नए आयुक्त धनपत सिंह हालांकि हर जिले में पंचायत चुनाव की धीरे धीरे तैयार करने में जुटे हैं लेकिन कानूनी अड़चनें खत्म होने तथा सरकार का इशारा मिलने के बाद चुनाव का ऐलान किया जा सकता है. लोगों ने शहरी निकायों और गांव में अपने अपने स्तर पर पंचायत चुनाव की तैयारी शुरू कर रखी है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!