नहीं रहें फ्लाइंग सिख: लीजेंड धावक मिल्खा सिंह का 91 साल की उम्र में कोरोना की वजह से निधन

चंडीगढ़ । पूर्व भारतीय लीजेंड धावक मिल्खा सिंह कोरोना की वजह से अपनी जिंदगी की रेस हार गए. मिल्खा सिंह का चंडीगढ़ के PGIMER में पिछले 15 दिनों से इलाज चल रहा था. शुक्रवार रात 11:30 बजें उन्होंने अंतिम सांसें लीं. वें 91 वर्ष के थे. 5 दिन पहले ही उनकी पत्नी निर्मल कौर का भी कोविड महामारी की वजह से निधन हो गया था. 20 मई को मिल्खा सिंह की कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आई थी. 3 जून को आक्सीजन लेवल गिरने की वजह से उन्हें आईसीयू में भर्ती करवाया गया था.

यह भी पढ़े -   क्यूं बारिश के बीच तिरपाल तान जलानी पड़ी चिता, जानें पूरा मामला

milkha singh 2

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमने एक शानदार खिलाड़ी खो दिया. मिल्खा सिंह ने अपने खेल की बदौलत लाखों भारतीयों के दिलों में अपनी खास जगह बनाईं थी. मिल्खा के व्यक्तित्व ने उन्हें लाखों लोगों का चहेता बना दिया था.

3 जून को मिल्खा सिंह को हस्पताल में भर्ती करवाया था

20 मई को कोरोना संक्रमित पाएं जाने के बाद 24 मई को उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. हालांकि 30 मई को परिवार के आग्रह पर उनकी वहां से छुट्टी करवा ली गई थी और तब से उनका घर पर ही उपचार चल रहा था. 3 जून को आक्सीजन लेवल गिरने के बाद उन्हें फिर से हस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा था. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी 4 जून को मिल्खा सिंह से फोन पर बातचीत कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली थी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!