हिसार की सावित्री जिंदल बनी एशिया की सबसे अमीर महिला, यहाँ पढ़े अनसुने फैक्ट

हिसार | सावित्री जिंदल की पहचान अब तक देश की सबसे अमीर महिला के तौर पर होती थी, वहीं साधारण सी दिखने वाली इस महिला का नाम अब एशिया के टाप में शामिल हो गया है. सावित्री जिंदल ने न केवल भारत में बल्कि एशिया की सबसे अमीर महिला होने का भी अपना नाम बनाया है. हाल ही में सावित्री जिंदल अपनी दौलत में जबरदस्त बढ़ोतरी को लेकर चर्चा में थीं. वहीं सावित्री जिंदल एक बार फिर एशिया की सबसे अमीर महिला बन गई हैं. सावित्री जिंदल चीन की यांग हुआन को पीछे छोड़ते हुए संपत्ति के मामले में पहले नंबर पर हैं.

Savitri Jindal Hisar

आज एशिया की अमीर महिलाओं की लिस्ट शेयर की है. इस लिस्ट के मुताबिक भारत की सावित्री जिंदल एशिया की सबसे अमीर महिला बन गई हैं. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक सावित्री जिंदल के पास 89.49 हजार करोड़ रुपए (11.3 अरब डॉलर) की संपत्ति है. बता दें कि सावित्री जिंदल जिंदल ग्रुप की चेयरपर्सन हैं.

दुनिया के अरबपतियों की लिस्ट में सावित्री 164वें स्थान पर पहुंच गई है. जिंदल ग्रुप ऑफ कंपनीज भारत में स्टील का तीसरा सबसे बड़ा उत्पादक है. इसके अलावा जिंदल ग्रुप सीमेंट, एनर्जी और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में काम करता है. आपको बता दें कि गौतम अडानी एशिया के सबसे अमीर शख्स हैं. उनके पास 9.35 लाख करोड़ रुपये की संपत्ति है.

यह भी पढ़े -   Haryana Weather: हरियाणा में 19 अगस्त तक बदलेगा मौसम, पढ़े आगामी मौसम को लेकर भविष्यवाणी

कभी कॉलेज नहीं गई, पति की मौत के बाद संभाला कारोबार

एशिया की सबसे अमीर महिला बनीं सावित्री जिंदल के बारे में मिली जानकारी के मुताबिक वह कभी कॉलेज नहीं गईं. इसके बाद भी पति की मौत के बाद सारा कारोबार उन्होंने अपने हाथ में ले लिया. धीरे-धीरे उनके नेतृत्व में कंपनी का कारोबार बहुत अच्छा बढ़ा. आपको बता दें कि जिंदल परिवार की ज्यादातर महिलाएं घर की जिम्मेदारी संभालती हैं. जबकि पुरुष बाहर का काम देखते हैं. ऐसे में सावित्री को अपने पति का व्यवसाय संभालने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी, इसके बाद भी वह अपनी जिम्मेदारी से नहीं कतराती थीं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के 105 सरकारी स्कूल हुए मर्ज, यहां देखें स्कूलों की लिस्ट

असम के तिनसुकिया में जन्मी, 1970 में हुई थी शादी

आपको बता दें कि सावित्री देवी का जन्म 1950 में असम के तिनसुकिया में हुआ था. 1970 में उन्होंने जिंदल ग्रुप के फाउंडर हरियाणा के ओमप्रकाश जिंदल से शादी की. उनके चार बेटे हैं- पृथ्वीराज जिंदल, सज्जन, रतन और नवीन. ज्येष्ठ पुत्र पृथ्वीराज जिंदल सॉ कंपनी के अध्यक्ष हैं. दूसरे बेटे सज्जन जिंदल ने जेडब्ल्यूएस कंपनी की कमान संभाली है. तीसरा बेटा रतन कंपनी में निदेशक के पद पर है. जबकि छोटा बेटा नवीन जिंदल ‘जिंदल स्टील’ के चेयरमैन हैं. इसके साथ ही वह सांसद भी रह चुके हैं.

यह भी पढ़े -   सियासी हलचल: आदमपुर उपचुनाव के रण में उतरेगी AAP, यहाँ जानिए कब हो सकता है उपचुनाव

दूसरे स्थान पर चीन के फैन होंगवेई, तीसरे स्थान पर यांग हुआन

एशिया की सबसे अमीर महिला बनीं सावित्री जिंदल के बाद चीन की फैन होंगवी दूसरे नंबर पर हैं. उनके पास 11.3 अरब डॉलर की संपत्ति भी है. 2021 में एशिया की सबसे अमीर महिला चीन की यांग हुआन थीं, जो अब तीसरे नंबर पर आ गई हैं. उनकी संपत्ति 87.11 हजार करोड़ (11 अरब डॉलर) है. सावित्री जिंदल सबसे अमीर लोगों की सूची में 164वें स्थान पर हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!