डिजिटल मीडिया के पत्रकार पर साईबर टैररिज्म की FIR के खिलाफ हिसार में पांच गांवों की महापंचायत

हिसार ।   प्रदेश में एक डिजिटल मीडिया ग्रुप के पत्रकार पर आपराधिक केस दर्ज किए जाने के खिलाफ किसानों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा है. इस मामले में रविवार दोपहर बाद हिसार जिले में स्थित पत्रकार के गांव पाबड़ा में पांच गांवों की महापंचायत बुलाई गई है. दूसरी ओर विपक्षी राजनीतिक दल भी इस मामले का विरोध कर सरकार को घेरने की तैयारी में है.
जानकारी के अनुसार राजेश सोशल मीडिया के माध्यम से किसान आंदोलन की कवरेज कर रहे थे.

यह भी पढ़े -   पत्नी-बेटे व हनीप्रीत से मिलने की जिद करता रहा राम रहीम, इस वजह से पुलिस ने पूरी नहीं की ख्वाहिश

sirsa latest news today kisan andolan

इसका संज्ञान लेते हुए पुलिस ने हिसार पुलिस के प्रवक्ता की शिक़ायत पर 9 अप्रैल की रात को सिविल लाइंस थाना में मामला दर्ज किया था. अपनी शिक़ायत में पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सोशल मीडिया ग्रुप पर पत्रकार के मोबाइल नंबर से भड़काऊ मैसेज किया गया है. इस संदेश के माध्यम से आम जनता को उकसाने व भड़काने का काम किया गया है. इसका प्रभाव प्रदेश की शांति व्यवस्था पर भी पड़ सकता है. इस शिकायत के आधार पर पुलिस ने साइबर टैररिज्म के आरोप में केस दर्ज किया गया है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के गांवों में ठीकरी पहरा लगाने के आदेश, किसी बाहरी की No एंट्री

पुलिस की इस कार्यवाही को लेकर अब किसानों और ग्रामीणों में आक्रोश का माहौल देखा जा रहा है. इसी बीच ऐसे में अब हिसार में पत्रकार राजेश कुंडू के गांव पाबड़ा में महापंचायत बुलाई गई है. रविवार शाम 4 बजे एतिहासिक पंचग्रामी चबूतरे पर आयोजित होने वाली इस महापंचायत में आसपास के पांच गांवों के लोग और पंचायतें शामिल होंगी. इसमें राजेश के खिलाफ दर्ज केस को रद्द करवाने के लिए अगली रणनीति पर चर्चा होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!