झज्जर: घर से खेलने के लिए निकला था 11 साल बच्चा, 9 दिन बाद नहर में मिला शव

झज्जर । 30 मार्च को हरियाणा के सोनीपत जिले के गांव मटिडू से 11 वर्षीय बच्चा लापता हुआ था. जिसका शव झज्जर जिले के गांव खरमाण से गुजर रही एनसीआर नहर की मोरी में फंसा हुआ मिला है. शव की पहचान की गई. खरखोदा पुलिस स्टेशन में मृतक मासूम के परिजनों के तरफ से उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी.

यह भी पढ़े -   आज ही निपटा लें बैंक के काम, इन 3 दिनों में लगातार रहेंगे बैंक बंद

CHILD NEWS

नहर की मोरी में फंसा मिला बच्चे का शव 

बता दें कि झज्जर के नागरिक अस्पताल में मासूम कन्हैया के शव का पोस्टमार्टम करवाया गया. वही बहादुरगढ़ सदर पुलिस के जांच अधिकारी ने बताया कि कन्हैया 30 मार्च को अपने परिजनों को घर से खेलने की कह कर गया था. लेकिन वह घर वापस नहीं आया. उसके बाद परिजनों ने उसकी गुम होने की रिपोर्ट दर्ज करवा दी. बाद में उसकी रिपोर्ट खरखोदा थाने में दर्ज करवाई गई थी. वहीं जांच अधिकारी के अनुसार कंट्रोल रूम में आई सूचना में बताया गया कि खरमाण गांव से निकल रही एनसीआर नहर की मोरी में एक शव फंसा हुआ है.

यह भी पढ़े -   15 मई से पहले धान की बिजाई ना करें किसान, वर्ना होगी कार्रवाई

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को बाहर निकाला और उसकी पहचान करने की कोशिश की गई. जब कोई जानकारी हासिल नहीं हो पाई तो,शव को झज्जर के नागरिक अस्पताल में पहचान के लिए रखवाया गया. उधर सोशल मीडिया से जानकारी प्राप्त करके बच्चे के परिजन झज्जर पहुंचे. उन्होंने मासूम बच्चे के  शव पर बंधे काले धागे से शव की पहचान की. पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!