हरियाणा के सबसे ऊंचे घोड़े गुलबाग की मौत, लग्जरी गाड़ियों से भी ऊंची थी कीमत

बहादुरगढ़ | हरियाणा से पशु- प्रेमियों के लिए एक दुखदायक खबर सामने आई है. बता दें कि हरियाणा का सबसे ऊंचे घोड़ा गुलबाग अब इस दुनिया में नहीं रहा. जहांगीरपुर स्थित अपने घर में रविवार रात को ह्रदय गति रुकने से उसकी मौत हो गई. गुलबाग की अचानक हुई मौत से परिवार में मातम पसरा हुआ है.

horse

गुलबाग के मालिक प्रमोद ने बताया कि रात के समय चारा खाने के बाद घोड़ा अपनी बैरक में था लेकिन सुबह देखा तो घोड़े की सांसें रुकी हुई थी. हमने तुरंत प्रभाव से डाक्टर को सूचित किया तो उन्होंने आकर गुलबाग की जांच की. लेकिन डाक्टर ने बताया कि घोड़े की मौत ह्रदय गति रुकने की वजह से हुई है.

प्रमोद ने बताया कि उसने गुलबाग को राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले से साल 2006 में खरीदा था. उन्होंने बताया कि मात्र 4 साल की उम्र में गुलबाग ने हरियाणा में सबसे ऊंचे घोड़े का खिताब अपने नाम कर लिया था. नुकरा नस्ल के इस घोड़े की उंचाई 68 इंच थी. यह घोड़ा अपनी खूबियों के चलते हरियाणा समेत आसपास के क्षेत्र में खासी प्रसिद्धि बटोर रहा था.

यह भी पढ़े -   हिसार में बनेगा देश का सबसे अत्याधुनिक ग्रीन ईको फ्रेंडली श्मशान घाट, जानें खासियत

प्रमोद ने बताया कि बेरी के विख्यात पशु मेले में गुलबाग ने मेले का ही नहीं, बल्कि हरियाणा का सबसे ऊंचा घोड़ा होने का खिताब हासिल किया था. गुलबाग की कीमत कई बड़ी लग्जरी गाड़ियों की कीमत को मात देती थी लेकिन उन्होंने घोड़े की कीमत कभी नहीं लगाई, वो सिर्फ उसकी नुमाइश लगाने के लिए मेले में लेकर जाते थे. गुलबाग मेले में जब डीजे की धुन पर थिरकता था तो देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ती थी. मेले में पहुंचते ही गुलबाग सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करता था.

यह भी पढ़े -   पैरोल पर बाहर आया राम रहीम असली या नकली, इस पर हाईकोर्ट ने दिया ये जवाब

गुलबाग की खासियत

• नस्ल : नुकरा
• कद : 68 इंच
• उम्र : 10 साल
• खुराक : रोजाना 5 किलो चना, 250 ग्राम घी, 5 किलो दूध, 800 ग्राम सोयाबीन और हरी घास

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!