जानिये- हरियाणा के ऐसे गांव के बारे में, जिसमें शादियों में बारातियों को दिए जाते हैं पौधे

जींद । अगर आप हरियाणा के जींद जिले के गांव उझाना में जाएंगे,  तो चारों तरफ छाई हरियाली आपके मन को आनंदित कर देगी. बता दें कि गांव के लोगों में पेड़ पौधे के प्रति प्यार बढ़ता जा रहा है. पिछले 5 साल में गांव में सार्वजनिक स्थानों पर 25000 से ज्यादा पौधे लगाए गए हैं. वहीं अब ग्रामीणों ने बेटी की शादियों में बारातियों को भी पौधे देने शुरू कर दिए हैं. पर्यावरण संरक्षण और पेड़ पौधे के प्रति उझाना के ग्रामीणों ने यह जज्बा जगाया है.

ped podha

इस गांव में छाई हरियाली आपके मन को कर देगी आनंदित

आईपीएस कुलदीप चहल और हेड कांस्टेबल मनोज कुमार दोनों स्कूल समय से दोस्त हैं. दोनों ने एक साथ नौकरी की तैयारी की. अब दोनों ने 2015 से गाँव को संवारने का बीड़ा उठा रखा है. प्रदूषित हो रहे गांव के पर्यावरण के संरक्षण के लिए उन्होंने प्रयास सेवा समिति बनाई और गांव के युवाओं को समिति का सदस्य बनाया.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में बुजुर्गों को अभी तक नहीं मिली है वृद्धावस्था पेंशन, अधिकारियों ने बताई यह वजह

वही इस समिति के प्रधान सुरेश सिंहमार बताते हैं कि आईपीएस कुलदीप ने युवाओं को हरियाली का महत्व बताया और उन्हें प्रेरित किया. वहीं युवाओं ने भी गांव को हरा-भरा करने के लिए दिल से उनका साथ दिया. उन्होंने बताया कि गांव के सरकारी अस्पताल, कब्रिस्तान, स्टेडियम,पार्क, मेडिकल, श्मशान घाट आदि सभी सार्वजनिक स्थानों पर छायादार,  फलदार,  फूलदार पौधे लगाए जा चुके हैं. पौधे लगाने का 95% कार्य पूरा हो चुका है.

युवाओं ने सिर्फ पौधे ही नहीं लगाए,  बल्कि उनकी देखभाल भी अच्छी प्रकार से की है. इस समिति में अब तक गांव के 85 युवा जुड़ चुके हैं. वही समिति के प्रधान सुरेश सिंहमार का ट्रैक्टर भी इस मुहिम के लिए 24 घंटे तैयार रहता है. पौधों को पानी देने के लिए आईपीएस कुलदीप ने ग्रामीणों को पानी का टैंक दे रखा है. इस पहल के कारण अब गांव में ऐसा माहौल बन चुका है कि युवा खुद ही पौधों में खाद व पानी देने में जुटे रहते हैं. वही उझाना के ग्रामीणों ने अब बेटी की शादियों में भी पौधे देने शुरू कर दिए है. बता दें कि पिछले कुछ महीनों में हो चुकी 6 शादियों में हर बाराती को पौधे  दिए गए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!