किसानों पर लाठीचार्ज को लेकर राकेश टिकैत का बड़ा बयान-देश में सरकारी तालिबानों का कब्जा, कमांडर भी है जो दें रहें हैं सिर फोड़ने के आदेश

करनाल । करनाल में किसानों पर हुएं लाठीचार्ज को लेकर भाकियू नेता राकेश टिकैत हरियाणा की मनोहर सरकार पर काफी आक्रोशित नजर आए और प्रदेश सरकार को तालिबान की संज्ञा दे डाली. राकेश टिकैत ने कहा कि देश में सरकारी तालिबानों का कब्जा हो चुका है और देश में सरकारी तालिबानों के कमांडर भी मौजूद हैं जो सरेआम किसानों के सिर फोड़ने के आदेश दें रहें हैं.

RAKESH TIKET

बता दें कि शनिवार को करनाल में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की बैठक का विरोध करने पहुंचे प्रदर्शकारी किसानों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया था जिसमें कई किसानों को गंभीर चोटें आई थी. गंभीर रूप से घायल हुए एक किसान की इस दौरान मौत भी हो गई है. भाकियू नेता राकेश टिकैत ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि देश में सरकारी तालिबानों के कमांडर मौजूद हैं और इन कमांडर की पहचान करनी होगी जिन्होंने किसानों के सिर फोड़ने के आदेश दिए हैं. इसके साथ ही टिकैत ने कहा कि पुलिस फोर्स की ताकत का सहारा लेकर वे पूरे देश को कब्जे में लेना चाहते हैं.

यह भी पढ़े -   राहत: हरियाणा में बारिश से खराब फसलों की होगी विशेष गिरदावरी, किसानों को मिलेगा मुआवजा

इसके अलावा किसान नेता राकेश टिकैत ने ट्विटर के जरिए प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर भी हमलावर दिखें. उन्होंने लिखा कि हरियाणा के सीएम मनोहर लाल का व्यवहार जनरल डायर जैसा है. जो क्रुरता पूर्वक व्यवहार हरियाणा पुलिस ने किसानों के साथ किया है वो कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. किसान सबका हिसाब बराबर करेगा.

बता दें कि तीनों कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने हरियाणा में गठबंधन सरकार के नेताओ व मंत्रियों के सामाजिक बहिष्कार का ऐलान किया हुआ है. इसी संबंध में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर किसान करनाल के बसताड़ा टोल प्लाजा पर इकट्ठा होकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कार्यक्रम का विरोध करने जा रहे थे.उसी दौरान करनाल में तैनात भारी पुलिस बल ने निहत्थे किसानों पर जमकर लाठियां भांजी थी जिसमें कई किसान गंभीर रूप से घायल हुए थे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में सस्ते दामों में मिल रहे सोलर पैनल, यहां करें रजिस्ट्रेशन

गौरतलब है कि तीनों कृषि कानूनों के विरोध प्रदर्शन को नौ महीने से ज्यादा का समय हो चुका है लेकिन इतने दिन बीत जाने के बावजूद भी कोई ठोस समाधान नहीं निकल सका है. किसानों का धरना दिल्ली की सीमाओं पर लगातार जारी है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!