हरियाणा में घरों में अंबेडकर की फोटो लगाएंगे किसान, जानें- आंदोलन को लेकर क्या है यह नई रणनीति

करनाल । हरियाणा में जाटों के घर में अंबेडकर और दलितों के घर में छोटूराम की फोटो लगाई जाएगी यह फैसला किसान आंदोलन की गति को धीमा न होने देने के मद्देनजर लिया गया है.

हरियाणा में हिसार जिले के बरवाला में किसानों की महापंचायत दलित समुदाय के लोगों के साथ शनिवार को सम्पन्न हुई जिसमें यह फैसला लिया गया. दरअसल किसान आंदोलन को ‘जाट आंदोलन’ की संज्ञा दिए जाने के पश्चात किसान नेता इस आंदोलन को अन्य वर्गों तक पहुँचाना चाहते है. इस पंचायत में किसान नेता गुरनाम चंडूनी समेत कई गणमान्य नेता मौजूद थे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, मनमानी रोकने के लिए निजी अस्पतालों का प्रबंधन खुद संभालेगी सरकार

bheem rav ambhdkar

इस महापंचायत में यह निर्णय लिया गया कि दलितों के मसीहा माने जाने वाले बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की फोटो को जाट तथा जाटों के सर्वमान्य नेता चौधरी छोटूराम की फोटो को दलित लोग अपने घरों में लगाएंगे ताकि भाईचारा बना रहा और सरकार की किसान आंदोलन को बांटने की नीति असफल हो जाये.

यह भी पढ़े -   हरियाणा रोडवेज को लेकर परिवहन मंत्री ने दिया बड़ा बयान, बंद नहीं की जाएंगी बसें

इसी दौरान नेताओ ने यह कहा कि किसान अधिनियम से मजदूर भी प्रभावित होंगे इसलिए वो भी इस संघर्ष में हमारे साथ जुड़े . साथ ही उन्होंने जोर देकर कहा कि पंजाब और हरियाणा में बैठक, पंचायत, धरना करने के अलावा मुख्य जोर इस आंदोलन को अन्य राज्यों में पहुचाने पर दिया जाए. हमारी लड़ाई सरकार के अलावा पूंजीवाद, और फूट डालकर हमें बाँटने वालों के खिलाफ है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!