कोरोना की तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए हरियाणा ने अपनाई यह तकनीक, जानें पूरी प्लानिंग

कुरुक्षेत्र । कोरोनावायरस की संभावित तीसरी लहर को लेकर प्रदेश सरकार अभी से अलर्ट मोड में नजर आ रही है. कोरोना की चाल को समझने के लिए स्वास्थ्य विभाग अब तक का सबसे बड़ा सीरो सर्वे करवाने जा रहा है. इस सीरो सर्वे में 400-500 व्यक्ति नहीं बल्कि 1720 लोग शामिल होंगे. इनमें से 60% सेंपल 18 साल से ज्यादा आयु के व्यक्तियों व 40% सेंपल बच्चों के लिए जाएंगे ,ताकि संभावित तीसरी लहर को लेकर पहले ही तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा सके. अब तक इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च और हरियाणा सरकार की ओर से अलग-2 पांच बार कुरुक्षेत्र जिले में सीरो सर्वे करवाया जा चुका है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: कोरोना की दोनों डोज लगवा चुके परिवारों को मिलेगा खास दर्जा, जानिए

corona checkup

बच्चों को शामिल करने की वजह

कुरुक्षेत्र जिले में शहरी व ग्रामीण क्षेत्र को मिलाकर 52 जगह सीरो सर्वे के लिए चिह्नित की गई है. इनमें से क्लस्टर 36 गांवों में और 16 क्लस्टर शहरी क्षेत्र में बनाएं गए हैं. जिलें से कुल 1720 सेंपल सीरो सर्वे के लिए इक्कठा किए जाएंगे . इनमें से 60% 18 साल से ज्यादा,30% 12-18 आयु वर्ग और 10% 6-12 आयु वर्ग के बच्चों के लिए जाएंगे.
इस बार सीरो सर्वे में 40% बच्चों को शामिल किया गया है ताकि यह पता लगाया जा सके कि कितने फीसदी बच्चों के शरीर में कोरोना से बचाव के लिए एंटी बॉडीज बन चुकी है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: कोरोना की दोनों डोज लगवा चुके परिवारों को मिलेगा खास दर्जा, जानिए

79% स्वास्थ्य कर्मचारियों में मिली एंटी बॉडीज

मई के महीने में आइसीएमआर की ओर से जिले में 500 लोगों के सीरो सर्वे के लिए सेंपल लिए गए थे, इनमें से कुरुक्षेत्र के 79% स्वास्थ्य कर्मचारियों में कोरोनावायरस को मात देने की एंटी बॉडीज मिली थी. जबकि सर्वे में शहर के अलग-2 10 क्लस्टरों से लिए गए सैंपलों में से 54% में कोरोना को हराने की इम्यूनिटी मिली थी.

आदेश मिलते ही फील्ड में उतरेगी टीमें

कोरोना कार्यक्रम प्रभारी डॉ रमेश सभरवाल और डॉ कृष्ण ने बताया कि सीरो सर्वे के लिए तैयारियां जोरों पर है. जैसे ही स्वास्थ्य विभाग की ओर से आदेश जारी किया जाता है,सीरो सर्वे के लिए टीमें मैदान में उतरेगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!