जहां सोने के दाम में हुआ इजाफा तो चांदी में आई गिरावट, देखें ताजा भाव

चंडीगढ़ | वैश्विक बाजार में जारी उतार-चढ़ाव का असर भारतीय बाजार पर भी दिख रहा है. गुरुवार की सुबह सोने-चांदी की कीमतों में बदलाव देखने को मिला. मांग बढ़ने से जहां सोना महंगा हो गया है, वहीं चांदी के नाम में गिरावट आई है.

Gold Rate in Haryana 7 april 2021

मल्टीकमोडिटी एक्सचेंज पर आज सुबह 24 कैरेट शुद्धता वाले सोने का वायदा भाव 25 रुपये बढ़कर 50,847 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया है.पहले सोने में कारोबार 50,939 रुपये के स्तर पर शुरू हुआ था, लेकिन जल्द ही खरीदारी और मांग कम होने से इसकी कीमत 0.05 फीसदी बढ़कर 50,848 पर पहुंच गई.

चांदी की कीमतों में दिखी गिरावट

एमसीएक्स पर आज सुबह चांदी की कीमतों में सोने के मुकाबले गिरावट देखी गई. सुबह के कारोबार में चांदी 351 रुपये की गिरावट के साथ 60,401 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई. पहले चांदी में कारोबार 60,550 रुपये प्रति किलो के स्तर पर शुरू हुआ था, लेकिन जल्द ही यह 0.58 फीसदी फिसलकर 60,401 के स्तर पर आ गया.

यह भी पढ़े -   Chanakya Niti: बार- बार मिल रहे हैं यह संकेत, तो हो जाओ सतर्क - बढ़ने वाली है आर्थिक परेशानियां

बाजार में उछाल

वैश्विक बाजार में आज सोने-चांदी की कीमतों में उछाल देखने को मिल रहा है. अमेरिकी बाजार में आज सुबह सोने का हाजिर भाव 0.2 प्रतिशत बढ़कर 1,855.11 डॉलर प्रति औंस हो गया, जबकि चांदी का हाजिर भाव 0.1 प्रतिशत बढ़कर 21.57 डॉलर प्रति औंस हो गया. पिछले कारोबारी सत्र में सोने की कीमत में करीब 1 फीसदी की तेजी आई थी. वैश्विक बाजार में प्लेटिनम की कीमत 0.2 फीसदी की गिरावट के साथ 990.64 डॉलर प्रति औंस पर आ गई है.

यह भी पढ़े -   दिल्ली मे बिजली कंपनी की नई स्कीम, आज ही पुराने AC के बदले ले जाए नया AC

कीमतों में आने वाले उतार-चढ़ाव

अमेरिका ने बुधवार देर शाम मुद्रास्फीति के आंकड़े जारी किए, जो अप्रैल में 8.3 फीसदी पर था. हालांकि यह अगस्त 2021 के बाद से महंगाई का सबसे निचला स्तर है, लेकिन यह अर्थशास्त्री के अनुमान से काफी ज्यादा है. मुद्रास्फीति के स्तर को ऊपर देखते हुए, निवेशक इस बात को लेकर आशंकित हैं कि फेड आगे भी ब्याज दरों में वृद्धि कर सकता है. इसी डर के चलते निवेशक अपना पैसा बाजार से निकाल कर सोने में निवेश कर रहे हैं, क्योंकि पीली धातु निवेश के लिए स्वर्ग की संपत्ति मानी जाती है.

यह भी पढ़े -   हिसारवासियों को अब बिजली कटौती से मिलेगी राहत, विभाग ने बनाई ये खास योजना

इससे पहले फेड रिजर्व ने मई की शुरुआत में ही अपनी ब्याज दरों में 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी की थी. साथ ही भविष्य में और बढ़ोतरी के संकेत भी दिए. ब्याज दरों में यह बढ़ोतरी अमेरिका के 22 साल के इतिहास में सबसे ज्यादा है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!