BJP ने उपराष्ट्रपति पद के लिए जाट नेता जगदीप धनखड़ का नाम किया घोषित, यहाँ पढ़े सबकुछ

नई दिल्ली | उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने जगदीप धनखड़ को उम्मीदवार घोषित कर विरोधी पार्टियों को चारों खाने चित कर दिया है. इसके साथ ही एक बार फिर बीजेपी ने सियासी बिसात पर अपने कदम से हर किसी को हैरानी में डाल दिया है. पहले द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाकर बीजेपी ने आदिवासी वोट बैंक को रिझाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है और अब इसके बाद धनखड़ के नाम के ऐलान के साथ उसने जाट समुदाय को एक बड़ा संदेश भेजा है. आइए जानते हैं भाजपा के इस मास्टरस्ट्रोक के पीछे क्या है राणनीति और इस धाकड़ प्लान से उसे क्या होगा फायदा.

यह भी पढ़े -   पीएम आवास योजना की लिस्ट जारी, तुरंत चेक करें अपना नाम; ये रहा प्रोसेस

Jagdeep Dhankhar

धनखड़ से जाट और किसान को संदेश

जगदीप धनखड़ को उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित करने के पीछे भारतीय जनता पार्टी की बहुत ही गहरी रणनीति बताई जा रही है. असल में इसके पीछे किसान आंदोलन के दौरान पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान और हरियाणा में जाट समुदाय की नाराज़गी की एक बड़ी भूमिका है. माना जा रहा है कि किसानों और जाट समुदाय को मनाने के लिए बीजेपी ने धनखड़ को उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया है.

इसके अलावा, मेघालय के राज्यपाल जाट नेता सत्यपाल मलिक भी लगातार आक्रामक बयानबाजी से केन्द्र सरकार पर हमला कर उसे नुकसान पहुंचा रहे थे. उनके बयानों से किसानों और जाट समुदाय के लोगों में बीजेपी के प्रति नाराजगी बढ़ रही थी,जो पार्टी के लिए नुकसानदायक साबित हो रहा था. ऐसे में धनखड़ को आगे करके बीजेपी ने किसानों और जाट समुदाय को बड़ा संदेश देने की कोशिश की है. केन्द्र सरकार ने साफ संदेश दिया है कि बीजेपी किसानों और जाट समुदाय के हितों को लेकर प्रतिबद्ध है.

यह भी पढ़े -   SBI, HDFC समेत इन बैंकों के ग्राहकों की होगी बल्ले-बल्ले, व‍ित्‍त मंत्री ने क‍िया बड़ा ऐलान

राजस्थान- हरियाणा के साथ लोकसभा चुनाव पर नजर

जगदीप धनखड़ को उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित कर भारतीय जनता पार्टी राजस्थान और हरियाणा में 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों में पूरा फायदा उठाने की तैयारी कर चुकी हैं. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उपराष्ट्रपति पद के नाम के ऐलान के दौरान जगदीप धनखड़ को किसान पुत्र कहकर संबोधित किया. इससे साफ जाहिर हो रहा है कि बीजेपी किसानों को रिझाने की हरसंभव कोशिश कर रही है.

यह भी पढ़े -   बिहार के बाद हरियाणा में BJP की बढ़ सकती है मुश्किलें, JJP ने बनाया ख़ास प्लान

बता दें कि कि जगदीप धनखड़ मूल रूप से राजस्थान के झुंझुनूं के रहने वाले हैं. यहां पर 2023 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं तो वहीं 2024 में हरियाणा के चुनाव और लोकसभा चुनाव भी हैं. बीजेपी को पूरी उम्मीद है कि जगदीप धनखड़ जैसे बड़े जाट नेता का नाम घोषित होने पर किसानों और जाट समुदाय का समर्थन उन्हें मिलेगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए बधाई दी और कहा कि उन्हें हमारे संविधान का उत्कृष्ठ ज्ञान हैं और वह राज्यसभा के बेहतरीन अध्यक्ष होंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!