महिलाओं के हित में रेलवे का बड़ा कदम, हर हाल में मिलेगी कन्फर्म सीट

नई दिल्ली | भारतीय रेलवे ने महिलाओं की सुविधा में इजाफा करते हुए एक और बड़ा ऐलान किया है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि अब सफर के दौरान महिलाओं को सीट के लिए परेशानी नहीं उठानी पड़ेगी. जिस तरह बस और मेट्रो में महिलाओं के लिए अलग से सीट आरक्षित होती है, उसी तरह से अब रेल में भी महिलाओं के लिए सीट आरक्षित होगी.

rail mantri

महिलाओं के लिए आरक्षित बर्थ

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में महिलाओं के लिए स्लीपर क्लास में छह बर्थ आरक्षित रहेगी. राजधानी एक्सप्रेस, दुरंतो एक्सप्रेस व गरीब रथ समेत पूरी तरह से वातानुकूलित एक्सप्रेस ट्रेनों की थर्ड एसी कोच में छह बर्थ महिलाओं के लिए आरक्षित किए जाएंगे.

स्लीपर कोच में आरक्षण

अश्विनी वैष्णव ने जानकारी देते हुए बताया कि हर स्लीपर कोच में छह से सात लोअर बर्थ, वातानुकूलित 3 टियर (3 एसी) कोच में चार से पांच लोअर बर्थ और वातानुकूलित 2 टियर (2 एसी) कोच में तीन से चार लोअर बर्थ वरिष्ठ नागरिकों, 45 वर्ष और उससे अधिक उम्र की महिला यात्रियों और गर्भवती महिलाओं के लिए आरक्षित की गई है. आपको बता दें कि रिजर्वेशन ट्रेन में उस श्रेणी के डिब्बों की संख्या के आधार पर किया जाएगा.

यह भी पढ़े -   Jio की हज़ार शहरों में 5G सेवा शुरू करने की योजना तैयार, यहाँ पढ़े डिटेल

महिला सुरक्षा के खास इंतजाम

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि सफर के दौरान महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था के विशेष इंतजाम किए जाएंगे. रेलवे सुरक्षा बल, जीआरपी और जिला पुलिस यात्रियों की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखेगी. उन्होंने बताया कि रेलवे सुरक्षा बल द्वारा गत वर्ष ‘मेरी सहेली’ नाम से पहल शुरू की थी, जिसका उद्देश्य ट्रेनों में सफर करने वाली महिलाओं को उनकी पूरी यात्रा के दौरान सुरक्षा मुहैया करवाना है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!