सोनीपत में रातों रात सड़क का हुआ निर्माण, सुबह देखा तो रह गये दंग, हाथ से उखड रही है सड़क

सोनीपत | सोनीपत में सड़क बनाने को लेकर बड़ा गड़बड़ घोटाला सामने आया है. प्रधानमंत्री सड़क ग्रामीण योजना के तहत बनने वाली सड़क पर ठेकेदार द्वारा खराब मटेरियल उपयोग करने का मामला सामने आया है. बता दें कि सोनीपत के गांव रोहट से ककरोई तक बनाई गई सड़क में ठेकेदार पर उचित गुणवत्ता की सामग्री ना उपयोग करने का आरोप लग रहा है. सड़क को बनाने की सबसे खास बात ये है कि रातों रात इस सड़क का निर्माण किया गया है. इसके बाद सुबह होते जैेसे ही ग्रामीणों ने सड़क को देखा तो वह भी हैरान हो गए, आखिर एक ही रात में यहां पर सड़क कैसे बन गई.

Road Making
प्रतीकात्मक फोटो

ग्रामीणों ने जब सड़क को हाथ लगाया तो मात्र हाथ लगाने भर से सड़क उखड़ने लगी. सड़क के नीचे पत्थर की जगह केवल रेत थी. इस मामले में अधिकारी भी ठेकेदार द्वारा गलत सड़क निर्माण करने की बात को मान रहे हैं.

यह भी पढ़े -   सोनीपत: पुलिस ट्रेनिंग के दौरान युवक की हुई मौत, अधिकारियो पर लापरवाही के आरोप

ग्रामीणों ने लगाया यह आरोप

मामले में ग्रामीणों का कहना है कि एक ही दिन में सड़क बिखरने लगी है.जहां पर पत्थर इस्तेमाल करना चाहिए था वहां रेत पर ही सड़क बिछा दी गई है. साथ ही बेस नहीं बनाया गया बजरी व तारकोल सीधा डाल दिया गया. जिससे सड़क का हाल 1 दिन में बेहाल हो चुका है. इलाके के ग्रामीणों का कहना है कि अधिकारियों द्वारा तुरंत इस बड़े गड़बड़ घोटाले के मामले को संज्ञान में लेना चाहिए और सड़क बनाने वाले ठेकेदारों पर उचित कार्रवाई करनी चाहिए.

बता दें कि सोनीपत खरखोदा के बीच रोहट गांव से भदाना व कोकरोई के लिए मार्ग बनाया जाना है. वहीं सड़क की कुल लंबाई 7 किलोमीटर के आसपास है और इसकी लागत 250 लाख बताई जा रही है. अभी रोडट से कोकरोई तक 3 किलोमीटर लंबी सड़क ही बनाई गई है, जो अब गड़बड़ घोटाले का रूप धारण कर चुका है. ग्रामीणों ने बताया कि उन्हें इस सड़क को बनाने के लिए काफी भागदौड़ करनी पड़ी. लगभग 6 महीने तक अधिकारियों के चक्कर काटने पड़े. तब जाकर सड़क को बनाने की मंजूरी मिली और अब जो सड़क को बनी तो ठेकेदार ने लापरवाही बरत दी.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: खरखौदा में होगी मारूति के तीसरे प्लांट की स्थापना, रोजगार के बढ़ेंगे अवसर

ठेकेदार ने आरोपों पर दी सफाई

वहीं इस मामले में ठेकेदार का कहना है कि 1 दिन लेवर ने शराब पीकर सड़क बना दी और सड़क बनाते वक्त लेवर ने रेत की सफाई नहीं की. जिस वजह से सड़क खराब बन गई. ठेकेदार ने आगे कहा कि इस मामले के सामने आने के बाद लेबर को हटा दिया गया है और रोड को भी उखाड़ दिया गया है. दोबारा से उचित गुणवत्ता के साथ इस रोड को बनाया जाएगा.

यह भी पढ़े -   सोनीपत: पुलिस ट्रेनिंग के दौरान युवक की हुई मौत, अधिकारियो पर लापरवाही के आरोप

एसडीओ ने कही ये बात

एसडीओ का कहना है कि कई 6 महीने से रोड पर पत्थर डाला गया था. वहां पर हैवी वाहन गुजरते रहे और पत्थर तीतर बीतर हो गए. पत्थर हटने की वजह से वहां पर मिट्टी जमा हो गई. जब ठेकेदार ने सड़क बनाया तो उसे दिख रहा था कि यह लंबा नहीं चलेगा. मगर फिर भी ठेकेदार ने रोड का निर्माण कर दिया. आगे बताया कि ठेकेदार को इस बारे में कहा भी गया था. मगर यह बात नहीं मानी. इस मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई है जल्द ही इस पर कारवाई की जाए.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!