हरियाणा में बारिश का अलर्ट, अगले 2-3 घंटों के दौरान इन जिलों में होगी बारिश

चंडीगढ़ । हरियाणा में बारिश का अलर्ट जारी है. इस सत्र लंबे समय से मॉनसून सक्रिय रहा है. मॉनसून की सक्रियता के कारण ही जून-जुलाई से ही लगातार लगभग हर रोज बारिश हो जाती है. इस बीच मौसम विभाग ने मॉनसून की स्थिति को लेकर नया अपडेट जारी किया है.

barish

भारत मौसम विज्ञान विभाग मौसम केंद्र चंडीगढ़ ने आंकड़े जारी करते हुए अपडेट दिया है कि अगले 2-3 घंटों के दौरान कुरुक्षेत्र, कैथल, करनाल, जींद, पानीपत, सोनीपत, रोहतक, झज्जर, रेवाड़ी, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, और मेवात इन तमाम जिलों और आसपास के क्षेत्रों में हल्की, मध्यम बारिश के साथ गरज और बौछारें पड़ने की संभावना है.

यह भी पढ़े -   अच्छी खबर: हरियाणा के सीरो सर्वे की रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, 76.3 प्रतिशत लोगों में बनी एंटीबॉडी

साथ ही आप को बताते चलें कि 11 अगस्त से मॉनसून टर्फ रेखा का पाश्चिमी छोर हिमालय की तलहटियों की तरफ बढ़ने की संभावना को देखते हुए राज्य में मॉनसूनी हवाएँ कमजोर हो जाने की सम्भावना बन रही है. यानी 11 अगस्त के बाद से राज्य के भीतर मानसून की सक्रियता धीरे-धीरे कम होती चली जाएगी.

बारिश फसलों के लिए लाभदायक

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के अनुसंधान निदेशक डा. एसके सहरावत ने बताया है कि यह बारिश सभी फसलों के लिए लाभदायक है. अभी तक मानसून सक्रिय न होने के कारण सभी फसलों में पानी की आवश्यकता थी, पर अब मानसून की बारिश इस जरूरत को पूरा करेगी. विशेषकर धान की फसल के लिए बारिश काफी फायदेमंद है, किसान बारिश का फायदा उठाकर धान लगा सकते हैं. इसके साथ ही कपास की फसल में किसान जल निकासी का प्रबंध करें क्योंकि अधिक पानी जमा होने से फसल में नुकसान हो सकता है.

यह भी पढ़े -   सीएम मनोहर लाल का बड़ा ऐलान- कैंसर एवं एचआईवी पॉजिटिव मरीजों को बहुत जल्द मिलेगा पेंशन का लाभ

बता दें हरियाणा में जून-जुलाई से ही मानसून सक्रिय हैं. लगभग रोज ही बारिश हो जाती है. इससे हरियाणा के किसानों के चहरे पर भी खुशियां छाई हुई हैं. आज भी मौसम विभाग ने 2-3 घंटों के दौरान हल्की बारिश व बूंदा-बांदी होने की संभावनाएं जताई हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!