यमुनानगर में मजदूर की पीट-पीटकर हत्या, फैक्ट्री में काम को लेकर हुई थी कहासुनी

यमुनानगर । सदर यमुनानगर थाना क्षेत्र के गांव इसापुर में काम को लेकर प्लाईवुड फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूरों के बीच कहासुनी हो गई. प्लाईवुड फैक्ट्री के मजदूर मदन उर्फ सीतामणी ने साथी मजदूर 45 वर्षीय छोटेलाल की पीट-पीटकर हत्या कर दी. बता दें कि आरोपी ने लकड़ी के डंडे से छोटेलाल पर सोते हुए वार किया, जिसकी वजह से उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

yamunanagar news

यमुनानगर की फैक्ट्री में मजदूर की पीट-पीटकर की गई हत्या 

वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. पुलिस वहां पर पहुंची, पुलिस ने शव को कब्जे में लिया. सदर थाना अधिकारी मनोज कुमार ने बताया कि उन्हें करीब रात 11:00 बजे इस वारदात की सूचना मिली थी. सूचना मिलते ही तुरंत पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई. आरोपी की तलाश में टीमें लगाई गई. आरोपी को गांव के ही एक खेत में पकड़ लिया गया. फैक्ट्री के चौकीदार अमरनाथ की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया.

यह भी पढ़े -   गार्ड की हिम्मत को देखकर दुम दबाकर भागे बदमाश, लुटने से बच गई बैंक देखे वीडियो

गांव इसापुर के पास पाइप प्लाईवुड फैक्ट्री है. यहीं पर फैक्ट्री का एक दूसरा प्लांट है, जिसमें आरा मशीनें लगाई गई है. यहीं पर बिहार के जिला गोपालगंज के गांव महरानी निवासी छोटालाल आरा मशीन पर कार्य करते थे. वही उनके साथी बिहार के जिला रोहतास के गांव साहसा निवासी मदन राय उर्फ सीतामणी भी मजदूरी करता था. सोमवार को लकड़िया उठाने को लेकर मदन राय व छोटेलाल के बीच कहासुनी हो गई.

यह भी पढ़े -   मंदिर में चोरी से आहत होकर 75 वर्षीय पुजारी ने निगला जहर, मौत

दोनों के बीच इस बात को लेकर हुई कहासुनी

यह कहासुनी कब इतनी आगे बढ़ गई,  दोनों को भी पता नहीं चला. दोनों एक दूसरे के साथ गाली गलौज करने लगे. उस समय गांव महरानी निवासी ठेकेदार संतोष राय ने दोनों का बीच बचाव किया और समझौता करा दिया. रात करीब 10:30 बजे खाना खाने के बाद छोटेलाल सोने के लिए चला गया. फैक्ट्री में आरा मशीन के पास रेहडी पर मच्छरदानी लगा कर सोया हुआ था. इसी बीच सीतामणी वहां पर आया और उसके साथ गाली गलौज करने लगा.

यह भी पढ़े -   करनाल में आवर्धन नहर में डूबे दो युवक, बुझ गए दोनों घरों के इकलौते चिराग

छोटेलाल ने उसको डांट लगाई और सोने के लिए कहा. इसके बाद छोटेलाल सो गया.  सीतामढ़ी वहां आया और लकड़ी का बिंडा उठाया और उसके सिर पर वार कर दिया. चीख सुनते ही फैक्ट्री का चौकीदार अमरनाथ टॉर्च लेकर घटनास्थल पर पहुंचा. उसने वहां पर छोटेलाल का शव खून से लथपथ देखा. चौकीदार को देखते ही आरोपी सीतामणी मौके से भाग गया. बता दे कि छोटेलाल यहां 2 महीने पहले ही मजदूरी के लिए आया था. संतोष राय उसे लेकर आया था.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!