हरियाणा सरकार खरीदेगी 1300 बसें, एनसीआर में चलेंगी लो-फ्लोर बसें, गुरुग्राम व फरीदाबाद से मांगी डिमांड

चंडीगढ़ । हरियाणा रोडवेज के बेड़े में 1300 नई बसों को शामिल किया जायेगा . बता दे कि इनमें से 800 बसों को इसी साल बेड़े में शामिल किया जाएगा. इन बसों की खरीद के बाद 500 बसों की खरीद का आर्डर दिया जाएगा.

Haryana Roadways

31 मार्च तक 400 बसों को परिवहन बेड़े में शामिल किया जाएगा

बता दें कि इस साल जो 800 बसें खरीदी जानी है,  उनमें से 400 बसें 31 मार्च तक हरियाणा रोडवेज के बेड़े में शामिल की जाएंगी. हाई पावर परचेज कमेटी की बैठक में टेंडर में आने वाली कंपनियों से एक साथ 800 बसों की खरीद की बात सामने आई है. हरियाणा सरकार की योजना है कि किसी भी तरह परिवहन बेड़े के बसों में कमी नहीं आनी चाहिए.

यह भी पढ़े -   हरियाणा को मिली 3 लाख डोज, 66 लाख की है मांग, 18+ का टीकाकरण धीमा

बता दें कि प्रदेश का काफी बड़ा वर्ग रोडवेज बसों में यात्रा करता है. फिलहाल परिवहन विभाग के पास 3329 सामान्य बसे हैं. इनमें से 2323 बसे ही सड़कों पर दौड़ रही है. प्रति किलोमीटर की स्कीम वाली 508 बसें भी इस बेड़े में शामिल की जाएगी. वर्तमान में वोल्वो की कुल 20 बसें सरकार के पास है. अभी चंडीगढ़ से गुड़गांव रूट पर एक ही बस चलाई जा रही है.

यह भी पढ़े -   बैंकों और ATM के समय में हो सकता है बड़ा बदलाव, कम होगा पब्लिक डीलिंग का समय

किसान आंदोलन व कोरोना के चलते  बसों में आई कमी 

कोरोना और किसान आंदोलन के चलते,  बाकी बसे नहीं चल पा रही है. लोगों की जरूरत के हिसाब से राज्य में बसों की संख्या काफी कम है. लगातार रोडवेज यूनियनों द्वारा भी नई बसों की खरीद का दावा किया जा रहा है. बता दे कि नई बसों की खरीद के लिए परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने सीएम मनोहर लाल खट्टर से भी मुलाकात की है.

सीएम ने 800 बसों की तुरंत खरीद की मंजूरी प्रदान की है. इसके अलावा 500 और नई बसों की खरीद के लिए भी सैद्धांतिक मंजूरी मिल चुकी है. गुरुग्राम और फरीदाबाद को सरकार मेट्रोपोलिया डेवलपमेंट अथॉरिटी बना चुकी है. इन शहरों में इलेक्ट्रिक बसें ही चलेंगी. सरकार ने कॉलेज एवं विश्वविद्यालयों के विद्यार्थियों के लिए भी बस सेवा शुरू की है. स्कूल शिक्षा उच्चतर शिक्षा तकनीकी शिक्षा व आईटीआई से बसों के संचालन के विकल्प मांगे गए हैं. यह संस्थान विद्यार्थियों की जरूरत व रूट के हिसाब से बसों की डिमांड सरकार को देंगे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!