केजरीवाल सरकार ने फिर बढ़ाया एक हफ्ते के लिए लॉकडाउन, अब 7 जून तक रहेंगी पाबंदियां

नई दिल्ली | दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन अवधि को एक सप्ताह के लिए ओर आगे बढ़ा दिया है. अब लॉकडाउन अवधि 7 जून की सुबह 5 बजे तक रहेगी. हालांकि इस बार इस अवधि के दौरान निर्माण और निर्माण उधोग को संचालित करने की अनुमति रहेगी. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने इसकी जानकारी दी.

arvind kejriwal

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए पाबंदियों को बढ़ाने का फैसला लिया गया है. केजरीवाल सरकार ने इस बार दो उधोगों- मैन्युफैक्चरिंग (निर्माण) और कंस्ट्रक्शन (निर्माण कार्य) को छूट प्रदान की है. लेकिन इस दौरान कोविड गाइडलाइंस का पालन सख्ती से करना होगा.

इससे पहले दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट की बैठक के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में संकेत दिए थे कि दिल्ली को धीरे-धीरे अनलॉक किया जाएगा. दिल्लीवासियों ने एक महीने में कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पा लिया है. पिछले 24 घंटे में 1.5% संक्रमण दर और करीब 1100 केस सामने आएं हैं. आइसीयू और आक्सीजन बेड भी खाली हुएं हैं.


केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को अनलॉक करने का यह उचित समय है. वरना कही ऐसी परिस्थितियां उत्पन्न ना हो जाए कि लोग कोरोना से तो बच जाएं लेकिन भुखमरी से ना मर जाएं. हमें बैलेंस बनाकर आगे बढ़ने की जरूरत है ताकि कोरोना भी आगे ना बढ़े और आर्थिक गतिविधियां भी जारी रहे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला की सजा पूरी, तिहाड़ जेल से जल्द होगी रिहाई

व्यापारियों ने सरकार से किए कई सवाल

व्यापारियों ने बताया कि भारत का खुदरा बाजार देश की वितरण व्यवस्था की रीढ़ है. व्यापारिक संगठनों ने फैक्ट्रियों को खोले जाने का स्वागत तो किया लेकिन साथ ही पुछा कि फैक्ट्री चलेगी कैसे,माल बिकेगा कहां. व्यापारियों ने सरकार से पूछा कि क्या निर्णय लेने से पहले सरकार ने इस बात को ध्यान में रखा कि बिना मार्केट खुले फैक्ट्रियों को कच्चे माल की आपूर्ति कहां से होगी.

यह भी पढ़े -   पेट्रोल-डीजल नहीं अब इस तेल से चलेगी गाडियां, लगभग 60 रुपए प्रति लीटर होगी कीमत

उत्पादन शुरू होने के बाद निर्मित सामान किस बंद मार्केट में जाएगा. दुकानों में रखा हुआ माल देखभाल के अभाव में खराब हो रहा है. पेमेंट का लेन-देन, बैंकों व अन्य लोन की किस्त समेत कई अन्य सवाल सरकार से किए गए हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!