हरियाणा ओपन बोर्ड इस दिन जारी करेगा 10वीं और 12वीं कक्षा का रिजल्ट, इस फार्मूले से तैयार किया जाएगा रिजल्ट

Casino

भिवानी । हरियाणा ओपन बोर्ड ने दसवीं कक्षा के फ्रेश विधार्थियों को न्यूनतम अंक प्रदान कर प्रमोट करने का फैसला किया है और इसके आधार पर ही बारहवीं कक्षा का परिणाम तैयार किया जाएगा. रिजल्ट से असंतुष्ट छात्र 16 अगस्त से 15 सितम्बर के बीच परिस्थितियां अनुकूल होने पर परीक्षा दें सकते हैं. बोर्ड ने बताया कि दसवीं के सभी फ्रेशर बच्चों को न्यूनतम 33% अंक प्रदान कर प्रमोट किया जाएगा.

Haryana Board
इसी कक्षा में सब्जेक्ट टू क्लियर( एसटीसी) व क्रेडिट ट्रांसफर पालिसी (सीटीपी) के अन्तर्गत यह फार्मूला लागू नहीं होगा. जैसे किसी छात्र के हिंदी में 50 व विज्ञान में 40 अंक हैं और इंग्लिश में फेल हैं तो उसका दोनों विषयों में प्राप्त नंबरों का औसत निकलेगा 45 , इस प्रकार उस छात्र को इंग्लिश में 45 अंक प्रदान किए जाएंगे. यदि कोई छात्र एक से ज्यादा विषयों में सीटीपी और एसटीसी है तो उसके उक्त विषयों में न्यूनतम 33% अंक प्रदान किए जाएंगे.

यह भी पढ़े -   आज दोपहर 2 बजे जारी होगा सीबीएसई के 12वीं का रिजल्ट, ऐसे देखें अपना रिजल्ट

12 वीं कक्षा का रिजल्ट 10 वीं कक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर तैयार किया जाएगा. यदि किसी परीक्षार्थी के 10 वीं के बेस्ट पांच विषयों के अंकों को जोड़कर जो प्रतिशत आएगी ,उसको आधार मानते हुए 5 विषयों के अंक दिए जाएंगे.
10 वीं व 12 वीं में जो छात्र मार्च 2020 में फेल हुए थे , जिन्होंने स्वयंपाठी के रूप में मार्च 2021 के लिए आवेदन किया है तो ऐसे परीक्षार्थी जिन विषयों में पास हैं ,उन विषयों में प्राप्त औसत अंकों के आधार पर फेल विषयों में अंक प्रदान किए जाएंगे.

वहीं जिन छात्रों को कम्पार्टमेन्ट की परीक्षा देनी थी ,उनका परिणाम उन द्वारा पहले से पास किए गए विषयों के प्राप्त अंकों का औसत अंक के आधार पर कम्पार्टमेन्ट विषय में अंक दिए जाएंगे.बोर्ड चेयरमैन डॉ जगबीर सिंह ने बताया कि हरियाणा ओपन 10 वी का रिजल्ट 7 जुलाई तक और 12 वीं कक्षा का 25 जुलाई तक जारी कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़े -   बड़ा फैसला: मेडिकल शिक्षा में OBC को 27 % , EWS को 10 % मिलेगा आरक्षण, सीएम खट्टर बोले– धन्यवाद मोदी जी

12 वीं में प्रेक्टिकल के अंक नहीं भेजें जाने पर न्यूनतम 33% अंक मिलेंगे

शिक्षा बोर्ड भिवानी 12 वीं की परीक्षा में स्कूल की तरफ से प्रेक्टिकल व इंटरनल अंक नहीं भेजें जाने या कम अंक देने की स्थिति में न्यूनतम अंक दर्ज करेगा. 10 वीं कक्षा के विषय अनुसार प्राप्त किए गए अंकों का 30% ,11 वीं में प्राप्त किए गए अंकों का 10% व 12 वीं में इंटरनेल व प्रेक्टिकल विषयों के 60% अंकों को जोड़कर 12 वीं कक्षा का रिजल्ट तैयार करेगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!