हरियाणा के इस गांव ने पेश की मिसाल, सरपंच सहित सभी 14 पंचों को सर्वसम्मति से चुना गया

हिसार | ग्राम ढाणा खुर्द में सरपंच सहित सभी 14 पंचों का चुनाव सर्वसम्मति से किया गया. इस पंचायत में पहली बार 28 वर्षीय एमए प्रथम वर्ष की छात्रा कृष्णा यादव को सर्वसम्मति से सरपंच बनाया गया है. कृष्णा ग्राम समाजसेवी नरेश यादव के भाई की पत्नी हैं. राजा ने अपनी संपत्ति से इस गांव को शहर जैसा समृद्ध बना दिया है. हाल ही में सांसद ने गांव की तारीफ भी की थी. इस पहल के लिए बीडीओ धर्मपाल ने ग्रामीणों को बधाई दी है.

यह भी पढ़े -   Haryana Panchayat Election: पंजाब और यूपी से आई बहुएं अब संभालेंगी हरियाणा के गांवों की चौधर

SARPANCH

गांव में करीब 2,900 मतदाता

इस गांव में करीब 2,900 मतदाता हैं. सरपंच का पद महिलाओं के लिए आरक्षित है. चुनाव प्रक्रिया शुरू होने से पहले सात दावेदार थे लेकिन ग्रामीण सर्वसम्मति से सरपंच चुनने की तैयारी कर रहे थे. इसको लेकर गांव में कई दिनों तक बैठक चली.

ये लोग चुने गए

ग्राम वार्ड-1 रामावतार, एससी वार्ड-2 सिद्धार्थ, वार्ड-3 मीना, वार्ड-4 प्रदीप, वार्ड-5 रेणु, वार्ड-6 प्रताप, वार्ड 7- प्रमिला, वार्ड-8 सुरेंद्र, वार्ड-9 एससी पूजा, वार्ड – (एससी)10 दीपक नेहरा, वार्ड-11 सीमा, वार्ड-12 संदीप सेन, वार्ड-13 सुमन, वार्ड-14 बीसी-ए राजेंद्र निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं.

यह भी पढ़े -   हिसार में AAP को जिला परिषद की मिली 15 सीटें, केजरीवाल ने पार्टी के भविष्य को लेकर कही ये बात

सबके सहयोग से करेंगे विकास कार्य

सर्वसम्मति से सरपंच बने कृष्ण यादव ने कहा कि ग्रामीणों द्वारा सौंपी गई जिम्मेदारी को पूरा करना है. गांव में सभी के सहयोग से विकास कार्य होंगे. बेटियों को शिक्षित करना पहली प्राथमिकता होगी. स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र को बढ़ावा देना है. समाजसेवी नरेश यादव ने कहा कि अब तक गांव में करीब 25 करोड़ रुपये की लागत से विकास कार्य किए जा चुके हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!