हरियाणा: मजेदार होगा नन्हे बच्चों को पढ़ाने का स्टाइल, अध्यापकों को दी गई स्पेशल ट्रेनिंग

झज्जर | हरियाणा सरकार ने बच्चों की पढ़ाई में रुचि बढ़ाने के लिए नया तरीका इजाद कर लिया है. प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पहली से लेकर तीसरी कक्षा तक के बच्चों को खेल- खेल में पढ़ाई करवाई जाएगी ताकि बच्चों की रुचि पढ़ाई में बनी रहें. कोरोना महामारी की वजह से बच्चे पढ़ाई से दूर हो गए थे, इसको देखते हुए विशेष अभियान चलाया गया है क्योंकि छोटे बच्चों की रूचि पढ़ाई से ज्यादा खेल में होती है.

यह भी पढ़े -   अनूठी पहल: अब मिड- डे मील में खुद की उगाई ताजा सब्जी खाएंगे बच्चे, सरकारी स्कूलों में शुरू होगी किचन गार्डनिंग

school student

शिक्षकों को दी गई हैं ट्रेनिंग

बच्चों को बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सरकार द्वारा निपुण हरियाणा के तहत एफएलएन मिशन शुरू किया गया है. इस मिशन के तहत प्राइमरी शिक्षकों को खेल के साथ- साथ पढ़ाई कैसे करवानी है, इसकी स्पेशल ट्रेनिंग दी गई है. बात अगर जिलें की करें तो यहां कुल 813 शिक्षकों को ट्रेनिंग दी गई और खेल के साथ- साथ पढ़ाने के गुर सिखाए गए.

शेड्यूल जारी

नए शैक्षणिक सत्र में जिलें के कुल 272 प्राइमरी स्कूलों में बच्चों को खेल के साथ-साथ पढ़ाई शुरू की जाएगी. वहीं अधिकारी भी समय- समय पर इसका निरीक्षण कर इसका पता लगाएंगे कि शिक्षकों को जो ट्रेनिंग के दौरान सिखाया गया था, उसके तहत शिक्षक बच्चों को सही तरीके से पढ़ाई करवा रहे हैं या नहीं. इसके लिए 25 अप्रैल से 24 मई तक बच्चों की पढ़ाई के लिए एफएलएन के तहत विशेष अभियान चलाया जाएगा, जिसके लिए सरकार द्वारा अलग से शेड्यूल भी जारी किया गया है. इंडिया न्यूज़ के लिए विजिट करे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: बुनियाद योजना का पंजीकरण इस दिन से होगा शुरू, ऐसे करें आवेदन

बच्चों का होगा विशेष ध्यान

डा. सुदर्शन पूनिया, नोडल अधिकारी, झज्जर ने बताया कि नए शैक्षणिक सत्र के लिए स्कूलों में एडमिशन शुरू हो चुके हैं. पहली से लेकर तीसरी कक्षा तक के बच्चों को खेल- खेल में शिक्षा दी जाएगी. पूरे महीने को पांच भागों में विभाजित किया गया है, जिसमें बच्चों को अलग- अलग तरीके से पढ़ाई करवाई जाएगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!