सरकार ने पराली जलाने वालों पर की सख्ती, 330 किसानों पर लगाया जुर्माना

कुरुक्षेत्र। हरियाणा और पंजाब के किसान पराली जलाने से बाज नहीं आ रहे हैं. बता दें कि सरकार और कृषि वैज्ञानिकों ने तमाम कोशिशें की, इन सब के बावजूद भी किसान नहीं मान रहे. वहीं सरकार ने अब पराली जलाने वाले किसानों पर सख्ती करनी शुरू कर दी. प्रदेश के कुरुक्षेत्र जिले में फसल अवशेषों में आग लगाने वालों के खिलाफ जुर्माना लगाया जा रहा है. बता दे कि अब तक कृषि विभाग द्वारा 330 लोगों के चालान कर ₹6 लाख 95हजार का जुर्माना वसूला गया है.

यह भी पढ़े -   आंदोलनरत आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को हरियाणा सरकार की बड़ी सौगातें, इन मांगों पर बनीं सहमति

PRALI

किसान नहीं आ रहे पराली जलाने से बाज

उपायुक्त कुमार ने कृषि विभाग के अधिकारियों की रिपोर्ट पर चर्चा की, उन्होंने बताया कि हरसेक के माध्यम से 476 और अन्य माध्यमों से 69 सहित कुल 545 आग लगाने से संबंधित घटनाएं सामने आई है. इन सभी लोकेशनो पर कृषि विभाग की टीम पहुंची. कृषि विभाग की टीमों ने 375 जगहों पर आग लगने की पुष्टि की. इसी के तहत अब तक 330 चालान किए जा चुके हैं. कुरुक्षेत्र की सभी टीमें दिन रात आग लगाने वालों पर नजर रखे हुए हैं.

यह भी पढ़े -   पानीपत में तैयार हुआ हरियाणा का दूसरा ऑटोमेटिक सब स्टेशन, जानिए क्या होगा फायदा

सभी का प्रयास है कि कुरुक्षेत्र में फानों में आग ना लगाने दी जाए. वहीं अधिकारियों को भी सख्त आदेश दिए गए हैं कि वह ऐसा करने वालो पर सख्ती बरतें. वहीं केंद्र सरकार की रिपोर्ट बताती है कि इस साल पराली जलाने की घटनाएं 2020 के मुकाबले काफी कम है. इसी साल 15 सितंबर से 1 नवंबर तक पंजाब, हरियाणा, यूपी, राजस्थान और एमपी में 20729 जगहों पर पराली जलाई गई है. ये 2020 के मुकाबले 54.8 फीसदी कम है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!