चायपत्ती और नमक के बाद अब पानी भी बेचेगी टाटा, इस बड़ी कंपनी का जल्द करेगी अधिग्रहण

नई दिल्ली | जल्द ही आपको टाटा ग्रुप बोतलबंद पानी बेचते हुए नजर आएगी. टाटा ग्रुप देश की नामी बोतलबंद पानी बेचने वाली कंपनी बिसेलरी का अधिग्रहण करने जा रही है. बता दें कि टाटा ग्रुप अपने सहयोगी कंपनी टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट लिमिटेड के तहत बिसलेरी इंटरनेशनल को 6,000 से 7,000 करोड़ रूपये में अधिग्रहण करने वाली है. इस डील के तहत बिसलेरी का मौजूदा प्रबंधन ही 2 साल तक कंपनी के कामकाज को देखेगा. बिसलेरी की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार, बोतलबंद पानी के कारोबार में कंपनी के 60 फीसदी हिस्सेदारी है.

mineral water

 

मौजूदा समय में 122 से अधिक प्लांट है चालू

मौजूदा समय में बिसेलरी के 122 से अधिक चालू प्लांट है. साथ ही, डिसटीब्यूशन के लिए भारत में 5,000 ट्रकों के साथ 4,500 से अधिक इसका डिस्ट्रीब्यूटर नेटवर्क है. मिनरल वाटर के अलावा बिसलेरी इंटरनेशनल प्रीमियम हिमालयन स्प्रिंगवॉटर भी बेचता है. देश में बोतलबंद पानी का बाजार 20,000 करोड रुपए से अधिक का है. अब टाटा के साथ डील होने की वजह से टाटा ग्रुप की एंट्री लेवल, मिड सेगमेंट और प्रीमियम पैकेज्ड वॉटर कैटेगरी में हो जाएगी. इससे टाटा कंजूमर को बहुत बड़ा मार्केट आसानी से मिल जाएगा.

यह भी पढ़े -   अब कालका- शिमला रेलवे रूट पर सफर होगा रोमांचक, रेलवे करेगा ये बड़ा बदलाव

इस प्रकार हुई थी बिसलेरी कंपनी की शुरुआत

बता दें कि बोतलबंद पानी बेचने वाली बिसलेरी कंपनी की शुरुआत एक दवा कंपनी के तौर पर की गई थी, जो मलेरिया की दवा बेचती थी. इसके संस्थापक इटली के बिजनेसमैन Felice Bisleri थे. उनकी मौत के बाद उनके फैमिली डॉक्टर रॉसी ने बिसलेरी को आगे ले जाने की जिम्मेदारी उठाई. भारत में डॉक्टर रोसी ने वकील खुशरू संतकू के साथ मिलकर बिसलरी लांच की. 1969 में बिसलेरी वॉटर प्लांट शुरू होने के ठीक 4 साल बाद रमेश चौहान ने विश्वरी को महज 4,00,000 रूपये में खरीद लिया.

यह भी पढ़े -   AIIMS Delhi Jobs: दिल्ली में आई डाटा एंट्री ऑपरेटर के पदों पर भर्ती, 12वीं पास उम्मीदवारों के लिए अच्छा मौका

तभी से लेकर इस कंपनी का मालिकाना हक रमेश चौहान के पास है. मौजूदा समय में वह 82 वर्ष के हो गए हैं. उनकी बेटी जयंती की दिलचस्पी इस बिजनेस में नहीं है, जिस वजह से अब वह इसे बेचना चाहते हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!