भारत- आस्ट्रेलिया के बीच हुआ मुक्त व्यापार समझौता, 10 लाख लोगों के लिए बनेंगे रोजगार के अवसर

नई दिल्ली | आस्ट्रेलिया के साथ हुएं मुक्त व्यापार समझौते से भारत में 10 लाख लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आस्ट्रेलियाई संसद ने भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौता (FTA) पारित करने की घोषणा की है. इस समझौते के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि रोजगार सृजन के अलावा इस समझौते से निवेश के लिए पर्याप्त अवसर पैदा होंगे और स्टार्टअप को भी बढ़ावा मिलने की उम्मीद जगी है.

JOB

पीयूष गोयल ने बताया कि दोनों देशों के बीच होने वाला आर्थिक सहयोग और व्यापार समझौता कपड़ा, रत्न एवं आभूषण और फार्मास्यूटिकल्स क्षेत्र को एक नई रफ्तार देगा. यह भारतीयों के लिए रोजगार के बेहतर अवसर प्रदान करेगा. इस समझौते से उन क्षेत्रों को सबसे अधिक लाभ होगा जो श्रम प्रधान हैं यानि जहां अधिक लोगों को काम करने की जरूरत होती है.

बिल्कुल खत्म होगा शुल्क

वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार अगले 5-6 सालों में लगभग 50 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच सकता है. आस्ट्रेलियाई संसद द्वारा व्यापार समझौते की मंजूरी पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस सौदे के तहत आस्ट्रेलिया द्वारा कुछ टैरिफ लाइनों पर सौ फीसदी शुल्क समाप्त कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़े -   IIMC Delhi Jobs: दिल्ली में आई कार्यालय सहायक के पदों पर भर्ती, मिलेगी 25 हजार सैलरी

नई शुरुआत का आगाज

वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि व्यापक विचार-विमर्श और सभी हितधारकों के साथ परामर्श के बाद समझौते को अंतिम रूप दिया गया था और इसे सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया. उन्होंने बताया कि भारत-ऑस्ट्रेलिया मुक्त व्यापार समझौते पर 2 अप्रैल, 2022 को हस्ताक्षर किए गए थे और समझौता जल्द ही लागू कर दिया जाएगा. गोयल ने कहा कि यह आर्थिक सहयोग और व्यापार समझौता किसी विकसित देश के साथ एक दशक से अधिक समय के बाद किया जाने वाला भारत का पहला व्यापार समझौता है. इस समझौते से रोजगार सृजन के अलावा निवेश बढ़ने के साथ भारत को दोहरा फायदा पहुंचेगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!