केंद्र सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब कर्मचारियों की होगी बल्ले-बल्ले

नई दिल्ली | केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को एक बड़ी खुशखबरी दी है. देश में श्रम सुधार के लिए केंद्र सरकार ने एक फैसला लिया है जिसके तहत जल्द ही 4 नए लेबर कोड लागू किए जाऐंगे. इस बात की जानकारी श्रम राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने लोकसभा में दी है.

OFFICE

नए लेबर कोड्स में बदल जाएंगे नियम

बता दें कि नए लेबर कोड्स के लागू होने के बाद कर्मचारियों की छुट्टी, सैलरी, प्रोविडेंट फंट और ग्रेच्युटी में कुछ बदलाव होंगे. जिसमें काम करने के घंटे और हफ्ते के नियम में भी बदलाव हो सकते हैं. गौरतलब है कि किसी भी कर्मचारी को ग्रेच्युटी के लिए किसी भी संस्थान में 5 साल लगातार नौकरी करनी पड़ती थी लेकिन नए लेबर कानून लागू होने के बाद इस नियम में भी बदलाव होंगे.

जानिए कितनी मिलती है Gratuity

फिलहाल किसी भी संस्थान में 5 साल पूरे करने पर ही ग्रेच्युटी बनती है. इसके बाद, जिस दिन आप कंपनी छोड़ते हैं उस महीने आपकी सैलरी के आधार पर ग्रेच्युटी का कैलकुलेशन किया जाता है. मान लीजिए की किसी कर्मचारी ने 10 साल तक किसी कंपनी में काम किया तो आखिरी महीने में उसका अमाउंट 50 हजार रुपए बनेगा. वहीं, कोड लागू होने के बाद 1 साल तक किसी भी कंपनी में काम करने वाला कर्मचारी भी ग्रेच्यूटी का हकदार होगा.

यह भी पढ़े -   क्या 5G सर्विसेज यूज करने के लिए ग्राहकों को खरीदनी पड़ेगी नई सिम, कितनी होगी रिचार्ज की कीमत

क्या होती है ग्रेच्युटी

दरअसल, ग्रेच्युटी किसी कर्मचारी को कंपनी से मिलने वाला इनाम होता है. अगर कोई कर्मचारी नौकरी की कुछ शर्तों का पूरी तरह से पालन करता है तो वह ग्रेच्युटी का हकदार होता है. बता दें कि ग्रेच्युटी का एक छोटा सा हिस्सा पहले ही कर्मचारी के वेतन से काट लिया जाता है. जो उसे बाद में एक बड़े हिस्से के रुप में दिया जाता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!