सेना के अफसरों और जवानों के लिए खुशखबरी, मोदी सरकार ने दी जोखिम भत्ते को मंजूरी

नई दिल्ली । दुर्गम और जोखिम भरे इलाकों में ड्यूटी करने वाले सैन्य अफसरों और कर्मियों को मोदी सरकार (Modi Government) ने तोहफा दिया है. केन्द्र सरकार ने इन्हें अतिरिक्त भत्ता देने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है. सेना कमांडर कांफ्रेंस के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को इस प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की है. इसके तहत अफसरों को 10,500 और जेसीओ व जवानों को छह हजार रुपये प्रतिमाह का जोखिम भत्ता प्रदान किया जाएगा.

यह भी पढ़े -   मोदी सरकार ने इन राज्यों में गेहूं खरीद के नियमों में दी ढील, किसानों को होगा फायदा

Indian Army

सेना की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि यह प्रावधान तीनों सेनाओं के लिए लागू होगा और एक समय में कठिन क्षेत्रों में तैनात करीब 40 फीसदी अफसरों एवं जवानों को इसका फायदा मिलेगा. बयान में कहा गया है कि अर्धसैनिक बलों में इस प्रकार का भत्ता पहले से दिया जा रहा था लेकिन अब सेनाओं के लिए भी इसे लागू कर इस विसंगति को दूर किया गया है.

आपको बता दें कि यह मामला 2019 से ही प्रक्रिया में था, इसलिए इसे 22 फरवरी 2019 से ही लागू करने का फैसला किया गया है. केन्द्र सरकार के इस फैसले से रक्षा बजट पर 10 हजार करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. मोदी सरकार के इस फैसले को चौतरफा सराहना मिल रही है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!