बॉर्डर खुलवाने को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर,15 नवम्बर को होंगी सुनवाई

नई दिल्ली | किसान आंदोलन के चलते दिल्ली की बंद पड़ी सीमाओं को खुलवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के बाद दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है. इस याचिका में बहादुरगढ़ चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज ने दिल्ली पुलिस पर रास्ते बंद करने का आरोप लगाया है.

Kisan Andolan Farmer Protest

बुधवार को याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता को सुप्रीम कोर्ट में चल रहे संबंधित मामलों की सत्यापित प्रति जमा करवाने के निर्देश दिए हैं. इस याचिका में केन्द्र सरकार के साथ दिल्ली पुलिस और हरियाणा सरकार को भी पार्टी बनाया गया है. मामले की अगली सुनवाई 15 नवम्बर को होंगी.

यह भी पढ़े -   किसानों की आवाज बुलंद करते हुए राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने केन्द्र सरकार पर साधा निशाना, MSP पर कानून बनाने की मांग

मामले की सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस और केन्द्र सरकार के वकीलों ने हाईकोर्ट में दलील दी कि ऐसे ही विषय का मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है तो याचिकाकर्ता के वकील ने तर्क देते हुए कहा कि उनकी याचिका पूरी तरह अलग है.

जिसके बाद हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता को निर्देश दिए कि सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन मामले की सत्यापित प्रति अगली सुनवाई से पहले जमा करवाई जाए. याचिकाकर्ता ने याचिका में कहा कि करीब 10 महीने से टिकरी बार्डर को दिल्ली पुलिस ने बंद किया हुआ है और एंबुलेंस व पैदल आवागमन के लिए भी रास्ता नहीं दिया गया है.

यह भी पढ़े -   देश मे नहीं थम रहे डेंगू और वायरल के मामले, इन राज्यों में है सबसे ज्यादा मरीज

23 हजार करोड़ का नुक़सान

बहादुरगढ़ चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नरेंद्र छिक्कारा ने बताया कि बार्डर बंद होने के चलते उधोगों को अब तक करीब 23 हजार करोड़ रुपए का नुक़सान हो चुका है. बार्डर बंद होने के चलते दिल्ली से आने वाले कर्मचारी नही आ पा रहे हैं. उधोगों तक कच्चा माल पहुंचाने और तैयार माल लें जाने के लिए काफी परेशानियां उठानी पड़ रही है.

यह भी पढ़े -   दिल्ली मेट्रो के येलो लाइन में फ्री वाईफाई सेवा शुरू, यहां देखें फायदा उठाने का सही तरीका

उन्होंने कहा कि 10 दिन के अंदर सुप्रीम कोर्ट के केस की सत्यापित प्रति हाईकोर्ट में जमा करवा दी जाएगी. जिसके बाद मामले की जल्द सुनवाई के लिए दिल्ली हाईकोर्ट से आग्रह किया जाएगा.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!