रंजीत सिंह हत्याकांड में राम रहीम को सजा सुनाने वाले जज को मिला धमकी भरा पत्र

पंचकूला । रणजीत सिंह हत्याकांड में प्रमुख राम रहीम को उम्र कैद की सजा सुनाने के बाद अब एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. इस मामले में खुलासा हुआ है कि एक शख्स ने राम रहीम को सजा सुनाने से पहले जज को धमकी भरा पत्र भेजा था. इस पत्र में आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया गया. वही पत्र भेजने वाले ने अपना पता डेरा सच्चा सौदा का बताया. सुनवाई के दौरान इस धमकी भरे पत्र को लेकर जज ने राम रहीम से पूछताछ की.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में दर्दनाक सड़क हादसा, शादी की खुशियां मनाकर लौट रहे 6 लोगों की मौत

Ram Rahim

रणजीत सिंह हत्याकांड मामले में नया मोड़

वही इस पर राम रहीम इसकी जांच सीबीआई से करवाई जाने की मांग रखी. बहुचर्चित रंजीत सिंह हत्या मामले में सोमवार को फैसला सुनाए जाने की कार्रवाई के दौरान सीबीआई जज सुशील कुमार गर्ग ने कोर्ट में कहा कि चिट्ठी लिखने वाले नें अपना नाम मोहित गुप्ता और अपना पता डेरे का लिखा है. वही जज ने कहा कि चिट्ठी में आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया. इससे यह स्पष्ट होता है कि धमकी दी जा रही है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में बुजुर्गों को अभी तक नहीं मिली है वृद्धावस्था पेंशन, अधिकारियों ने बताई यह वजह

वहीं सीबीआई की विशेष अदालत के जज सुशील कुमार गर्ग ने राम रहीम से कहा मुझे चिट्ठी लिखी गई है, चिट्ठी में क्या लिखा है मैं यह नहीं बता सकता हूं मुझे चिट्ठी लिखकर धमकी दी गई. वहीं इस मामले में बलात्कारी राम रहीम ने जज से कहा कि उसका डॉक्टर मोहित गुप्ता से कोई भी लेना देना नहीं है. पहले भी उसने ऐसा किया था जब हाईकोर्ट ने उस पर ₹50000 का जुर्माना लगाया था. वही बलात्कारी गुरमीत राम रहीम ने धमकी भरे पत्र का सीबीआई जांच करने का निवेदन किया. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जज सुशील कुमार गर्ग ने अभी तक इस मामले में सीबीआई जांच के लिए कोई भी सिफारिश नहीं की है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!