राम रहीम को साधुओं को नपुंसक बनाने के मामले में हाई कोर्ट का नोटिस

सिरसा । डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. वीरवार को हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई. जिसमें गुरमीत राम रहीम के खिलाफ डेरे में साधुओं को नपुंसक बनाए जाने के मामले की जल्द से जल्द सुनवाई की मांग की गई है. जस्टिस एचएस मदान ने सीबीआई की इस याचिका पर सुनवाई करते हुए राम रहीम सहित बाकी 3 लोगों को नोटिस जारी कर दिया और इस मामले में जवाब देने के आदेश जारी कर दिए.

यह भी पढ़े -   बड़ा कदम: कोरोना काल में अफसरों को फोन हर दम रखना होगा ऑन, आदेश जारी

RAM RAHIM HANNIPREET

वीरवार को सीबीआई द्वारा दायर अर्जी में बताया गया कि सीबीआई ने वर्ष 2019 में हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी और तब सीबीआई ने पंचकूला सीबीआई कोर्ट के उस आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी जिसके तहत पंचकूला की सीबीआई कोर्ट ने इस केस की केस डायरी डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सहित अन्य 3 आरोपियों को दिए जाने के सीबीआई को आदेश दिए थे. हाई कोर्ट ने सीबीआई की याचिका पर राम रहीम और अन्य आरोपियों को नोटिस जारी कर सीबीआई कोर्ट के आदेश दिए थे कि वह हाईकोर्ट में इस याचिका पर अगली सुनवाई से पहले इस केस की सुनवाई ना करें.

यह भी पढ़े -   लॉकडाउन की पहली सुबह रोहतक में रही अफरातफरी, बाजारों में दिखी भारी भीड़

आज सीबीआई ने हाईकोर्ट में बताया कि हाईकोर्ट के आदेशों के बाद सीबीआई कोर्ट में इस केस की सुनवाई नहीं हो पाई है. दिसंबर 2019 में जब इसकी केस की अंतिम बार सुनवाई हुई थी तब 30 मार्च 2020 तक हाई कोर्ट ने इस याचिका पर सुनवाई स्थगित कर दी थी.

यह भी पढ़े -   हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, डाक्टरों और मेडिकल स्टाफ को मुफ्त मिलेगी रेस्ट हाउस की सर्विस

जैसे-जैसे कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते गए लगातार इस केस की सुनवाई भी स्थगित होती गई. इसलिए सीबीआई ने हाई कोर्ट से इस केस की जल्द से जल्द सुनवाई किए जाने की मांग की है. हाई कोर्ट ने भी आज आरोपियों को नोटिस जारी कर जवाब मांग लिया है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!