बिहार नहीं हरियाणा के छपरा गांव के लोगों ने कर दिया कमाल, स्टोरी पढ़कर आप भी करेंगे तारीफ

सोनीपत । बिहार राज्य का छपरा जिला नहीं , बल्कि हरियाणा का गांव छपरा जिला सोनीपत इन दिनों सुर्खियों में बना हुआ है. दरअसल एक ओर जहां शहरों में कोरोना वैक्सीन की कमी बनी हुई है तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में लोग जागरुकता के अभाव में वैक्सीन लगवाने से परहेज़ कर रहे हैं. लेकिन इस बीच राष्ट्रीय राजधानी से सटे हरियाणा के सोनीपत जिले का गांव छपरा शुक्रवार को जिले का पहला ऐसा गांव बन गया है जहां 100% वैक्सीनेशन हों चुका है. कथूरा विकास खंड के अन्तर्गत आने वाले इस गांव में 18 साल से अधिक के व्यक्तियों की संख्या 1,662 है और सभी का टीकाकरण हो गया है.

vaccination

स्वास्थ्य विभाग द्वारा छः दिन तक चलाएं गए विशेष अभियान में ग्रामीणों को जागरूक करते हुए टीकाकरण अभियान को सफल बनाया. सिविल अस्पताल गोहाना के एसएमओ डॉ. करमबीर ने अभियान को सफल बनाने के लिए चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मचारियों को बधाई दी और साथ ही ग्रामीणों का आभार व्यक्त किया. लोग गांव की इस उपलब्धि को सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं और खासतौर पर बता रहे हैं कि यह बिहार का छपरा जिला नहीं , बल्कि हरियाणा का छपरा गांव है. उम्मीद है कि छपरा गांव के लोगों से प्रेरित होकर अन्य लोग भी वैक्सीनेशन के लिए आगे आएंगे.

यह भी पढ़े -   कैंसर पीड़ितों के लिए किया अपने बालों का दान, समाज सेवा को समर्पित है यह दंपति

वैक्सीन के प्रति बढ़ी जागरुकता

एसएमओ डॉ करमबीर सिंह और वैक्सीनेशन के नोडल अधिकारी डॉ चक्रवर्ती शर्मा के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम 18 जुलाई को गांव छपरा पहुंची और ग्रामीणों की भ्रांतियों को दूर कर उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित किया. अधिकारियों ने ग्रामीणों को इकट्ठा किया और सबके सामने 10 लोगों को वैक्सीन लगाई. ग्रामीणों को समझाया गया कि वैक्सीन कोरोना संक्रमण के प्रभाव को रोकने में मददगार साबित होंगी . अधिकारियों ने बताया कि अगर किसी व्यक्ति ने कोरोना वैक्सीन लगवा रखीं हैं और वह कोरोना संक्रमण की चपेट में आ भी जाता है तो उसकी मौत होने की संभावना बहुत कम हों जाती है. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बातों से ग्रामीणों का विश्वास बढ़ा और वैक्सीनेशन के लिए आगे आए.

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 19,20 व 21 जुलाई को गांव में वैक्सीनेशन कैंप लगाया. बृहस्पतिवार और शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सघन अभियान चलाते हुए ने घर-घर जाकर बचें हुए लोगों को वैक्सीन लगाई. इस तरह छपरा गांव 100% वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाने वाला सोनीपत जिले का पहला गांव बन गया. नोडल अधिकारी डॉ चक्रवर्ती शर्मा ने बताया कि जल्द ही जिलें के अन्य गांवों को भी 100% वैक्सीनेट करने का अभियान चलाया जाएगा.

यह भी पढ़े -   हाई पावर कमेटी और किसान नेताओं में कल होगी बातचीत, बॉर्डर खाली करने को लेकर बन सकती है सहमति

गौरतलब है कि जागरूकता के अभाव में ग्रामीण क्षेत्रों के लोग कोरोना वैक्सीन लगवाने से परहेज़ कर रहे हैं. कुछ महीने पहले यूपी के बाराबंकी जिले में कोरोना वैक्सीन लगने के डर से एक गांव के सभी लोग नदी में कूद गए थे.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!