हरियाणा के शिक्षा मंत्री ने 1.41 लाख ड्यूल डेस्क; 238 पीएम श्री स्कूल और एचटेट की वैधता पर लिया ये फैसला

चंडीगढ़ | हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने कहा कि राज्य के सभी 22 जिलों के 26 ब्लॉकों के प्राथमिक, माध्यमिक और वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में छात्रों के बैठने के लिए ड्यूल डेस्क खरीदे जा रहे हैं. इन पर करीब 95 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जाएगी और इसके पहले चरण में 31 जनवरी 2023 तक संबंधित स्कूलों को ये डेस्क पहुंचा दिए जाएंगे.

kanwar pal gujjar

1.41 लाख ड्यूल डेस्क खरीदे जाएंगे

शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि राज्य के सभी प्रखंडों के स्कूलों में लगभग 1.41 लाख ड्यूल डेस्क खरीदे जाएंगे. इसके लिए आदेश जारी कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि इस वर्ष 31 दिसम्बर तक 23 प्रखंड विद्यालयों में ड्यूल डेस्क उपलब्ध कराने का आदेश जारी कर शेष 60 प्रखंड विद्यालयों में वर्ष 2023 तक उपलब्ध करा दिया जायेगा.

उन्होंने बताया कि राज्य के 26 प्रखंडों में पांचवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए 6,5501 डेस्क, छठी से आठवीं कक्षा के छात्रों के लिए 36,168 डेस्क और नौवीं से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए 39,208 डेस्क उपलब्ध कराए जाएंगे. उन्होंने कहा कि ड्यूल डेस्क और उनकी मरम्मत के लिए माध्यमिक विभाग के लिए लगभग 17 करोड़ रुपये और बुनियादी विभाग के लिए लगभग 57 करोड़ रुपये की आवश्यकता होगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले जिन विद्यार्थियों को टैबलेट दिए गए हैं, उन्हें 30 नवंबर तक टैबलेट सिम उपलब्ध करा दी जाएगी.

यह भी पढ़े -   HPSC के माध्यम से की जाएगी 205 आयुष डॉक्टरों की भर्ती, मुख्यमंत्री ने किया एलान

प्रदेश में अब तक दसवीं से दसवीं कक्षा के 5.28 लाख विद्यार्थियों को टैबलेट उपलब्ध कराए जा चुके हैं. इसके अलावा स्कूलों में चल रहे मरम्मत कार्यों की गुणवत्ता का पूरा ख्याल रखते हुए कार्य समय पर पूरा कराया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन स्कूलों में काम चल रहा है, उनकी भी समीक्षा करें.

238 पीएम श्री स्कूल खोले जाएंगे

शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने कहा कि प्रदेश के सभी प्रखंडों में 238 पीएम श्री स्कूल खोले जाएंगे. केंद्र सरकार की मदद से प्रत्येक ब्लॉक में दो ऐसे स्कूल खोलने का प्रावधान है, प्रत्येक स्कूल के जीर्णोद्धार के लिए सरकार द्वारा एक करोड़ रुपये तक की राशि प्रदान की जाएगी. शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार इन स्कूलों में उत्कृष्ट शिक्षक उपलब्ध कराएगी. ऐसे स्कूलों में अच्छी शिक्षा, सांस्कृतिक और शारीरिक गतिविधियों के उच्च स्तर के उदाहरण देखने को मिलेंगे.

केंद्र सरकार ने इन स्कूलों के चयन के लिए एक मानदंड निर्धारित किया है ताकि बच्चों को अच्छी शिक्षा प्रदान की जा सके. इसके आधार पर स्कूलों के चयन का काम शुरू कर दिया गया है. कंवर पाल ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में 138 संस्कृति मॉडल स्कूल स्थापित कर रही है, इन स्कूलों में अधिकांश शिक्षकों की नियुक्ति हो चुकी है. उन्होंने बताया कि विद्यालयों में कार्यरत अधिकांश अतिथि शिक्षकों को उनके गृह जनपदों में पदस्थापन कर दिया गया है तथा शेष प्रक्रियाधीन है. इसके साथ ही स्कूलों में कक्षा पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों को जल्द ही किताबें उपलब्ध करा दी जाएंगी. बैठक में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. महावीर सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.

एचटेट की वैधता बढ़ाने पर विचार

शिक्षा मंत्री ने एचटेट की वैधता को लेकर भी बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा है क्या एचटेट की वैधता को बढा़ने के लिए फिलहाल अभी कोई भी फैसला नहीं लिया गया है. इसे लेकर भी विचार किया जा रहा है. अभी फिलहाल एचटेट की वैधता 7 वर्ष है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!