हरियाणा में 1 दिसंबर से वर्दी में नजर आएंगे ग्रुप-डी के कर्मचारी, मुख्य सचिव ने जारी किए आदेश

चंडीगढ़ | हरियाणा के सभी सरकारी कार्यालयों, बोर्ड और कॉर्पोरेशन में कार्यरत ग्रुप-डी कर्मचारी एक दिसंबर से वर्दी में दिखेंगे. यहीं नहीं ग्रुप-डी कर्मियों को हरियाणा सरकार की अधिसूचना में जारी नियमों का भी पालन करना होगा. जो भी कर्मचारी ऐसा नहीं करेगा उस पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. यह आदेश हरियाणा के  ने जारी किए है.

Sanjeev Kaushal

कार्यालय में बन रहा अव्यवस्था का माहौल

बात यह है कि पिछले लंबे समय से देखने में आ रहा है कि सरकारी कार्यालयों में ग्रुप-डी के पदों पर काम करने वाले कर्मचारी बिना वर्दी ऑफिस आ जाते है. हालांकि, संबंधित विभागाध्यक्षों द्वारा उन्हें समय-समय पर वर्दी पहनने के लिए कहा जाता है लेकिन हर बार ग्रुप-डी कर्मचारी आदेशों की अवहेलना करते रहें है.

यह भी पता चला है कि ग्रुप-डी कर्मचारी सरकारी कार्यालय में अन्य पदों पर काम करने वाले कर्मियों की बात भी नहीं सुनते. यही नहीं वे अपनी डयूटी से जुड़े सभी कामो को भी पूरा नहीं करते, जिसके कारण कार्यालय में अव्यवस्था का माहौल बन जाता है और अन्य वर्ग के कर्मचारियों को समस्या होती है. इसे देखते हुए मुख्य सचिव की ओर से ग्रुप-डी कर्मियों के लिए वर्दी पहनने और डयूटी से जुड़े नियमों की पालना को लेकर आदेश दिए गए है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में दो दर्जन सरकारी विभागों का हुआ विलय, इस वजह से लिया गया फैसला

बागवानी विभाग ने निकाली चिट्ठी

मुख्य सचिव के आदेशों को ध्यान में रखते हुए बागवानी विभाग ने राज्य के बागवानी कार्यालय में काम करने वाले ग्रुप-डी कर्मियों के लिए चिट्ठी निकाली है, जिसमें मुख्य सचिव के आदेशों का हवाला देते हुए ग्रुप-डी कर्मियों के लिए एक दिसंबर से वर्दी पहनना अनिवार्य किया गया है. यह भी कहा है कि कार्यालयों में आने वाले ग्रुप-डी कर्मचारी अपनी-अपनी डयूटी का सख्ती से पालन करेंगे. अगर वे ऐसा नहीं करेंगे तो उनके विरुद्ध अनुशासनत्मक कार्रवाई होगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!