हरियाणा कांग्रेस में फिर खींचतान शुरू, ऐलनाबाद उपचुनाव हार को लेकर इन नेताओं ने लगाएं एक-दूसरे पर आरोप

चंडीगढ़ । हरियाणा कांग्रेस पार्टी में अंतर्कलह खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. ऐलनाबाद उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी की जमानत जब्त होने के बाद कांग्रेसी नेताओं का एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो गया है. इस मामले को लेकर प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा व पूर्व मुख्यमंत्री भुपेंद्र हुड्डा खुलकर आमने-सामने आ गए हैं तो वहीं प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल ने हार के लिए सीधे-सीधे पार्टी प्रत्याशी पवन बैनीवाल को ही जिम्मेदार ठहरा दिया.

Bhupender Singh Hooda

पार्टी प्रत्याशी ने नहीं की मेहनत

हरियाणा कांग्रेस पार्टी के प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल ने ऐलनाबाद उपचुनाव पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हमें जीत की उम्मीद नहीं थी लेकिन इस तरह से तीसरा नंबर आएगा और जमानत जब्त हो जाएंगी,यह भी नहीं सोचा था. उन्होंने हार के कारणों की गहराई से जांच कराने की बात कही. बता दें कि बरोदा उपचुनाव जीतने के बाद कांग्रेस पार्टी को एलन उपचुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा है.

रिपोर्ट हाईकमान को भेजी जाएगी

ऐलनाबाद उपचुनाव नतीजे पर बोलते हुए प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कहा कि इस उपचुनाव में कुछ नेताओं की जिस तरह की भूमिका होनी चाहिए थी,वैसी रही नहीं. इसकी रिपोर्ट से बहुत जल्द हाईकमान को अवगत कराया जाएगा. विवेक बंसल और कुमारी शैलजा की इन प्रतिक्रियाओं से पूर्व मुख्यमंत्री भुपेंद्र हुड्डा उनके निशाने पर आ गए हैं लेकिन विरोधी चाहें कुछ भी समझें , भुपेंद्र हुड्डा ने बरोदा और ऐलनाबाद उपचुनाव में अपनी भूमिका दिखाकर हाईकमान को स्पष्ट संदेश दिया है कि हरियाणा कांग्रेस का पहिया उनके इर्द-गिर्द ही घूमता है.

यह भी पढ़े -   बुढ़ापा पेंशन लेने वाले बुजुर्गों, विधवा तथा निराश्रितों के लिए खुशखबरी, रुकी हुई पेंशन खातों में पहुंची

सरकार पर जड़ें गंभीर आरोप

कांग्रेस प्रभारी विवेक बंसल ने कहा कि हालांकि ऐलनाबाद सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट नहीं थी लेकिन इतनी करारी हार की उम्मीद नहीं जताई गई थी. उन्होंने कहा कि पार्टी प्रत्याशी पवन बैनीवाल को जिस उम्मीद के साथ चुनावी रण में उतारा गया था वो भी हमारी उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे. ऐलनाबाद में वोटों की बड़े पैमाने पर खरीद-फरोख्त हुई है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के सरकारी स्कूलों में 13 दिसंबर से शुरू होगी मूल्यांकन परीक्षा, शिक्षा विभाग ने जारी किए ये जरूरी दिशा-निर्देश

वहीं प्रदेश अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कहा कि ऐलनाबाद सीट पर कुछ जगहों पर पार्टी की स्थिति सही नहीं थी. इस बार मतों का ध्रुवीकरण हुआ. गठबंधन सरकार ने सरकारी मशीनरी का जिस तरह दुरुपयोग किया वह निंदनीय है. उन्होंने कहा कि पार्टी के मजबूत आधार के लिए संगठन का होना बहुत जरूरी है. इसको लेकर जल्द ही पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से बात की जाएगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!