सोनीपत से सीधे फरीदाबाद और नोएडा जाना होगा आसान, बनेगा एक और एलिवेटेड बाईपास रोड़

नई दिल्ली | सोनीपत से फरीदाबाद और नोएडा आवागमन करने वाले वाहन चालकों के लिए बड़ी खुशखबरी है. अब उन्हें इन जगहों पर जाने के लिए भीड़भाड़ वाली सड़कों से नहीं गुजरना पड़ेगा. यहां सिग्नेचर ब्रिज से डीएनडी फ्लाइओवर तक बनने वाले एलिवेटिड बाइपास रोड़ के निर्माण कार्य को यूटिपेक ने अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है. 13 किलोमीटर लंबा यह एलिवेटेड बाईपास रोड़ यमुना के फ्लडप्लेन एरिया से होते हुए डीएनडी फ्लाइओवर को जोड़ेगा. इस बाइपास रोड़ को आउटर रिंग रोड़, रिंग रोड़, बारापुला फ्लाइओवर, आईटीओ फ्लाइओवर, एनएच – 24 से भी एलिवेटिड लूप से कनेक्ट किया जाएगा.

Fourlane Highway

गोपालपुर गांव के पास से शुरू होगा बाईपास रोड़

 

बता दें कि सिक्स लेन इस एलिवेटेड बाईपास रोड़ की जमीन से ऊंचाई करीब 20-22 मीटर होगी. इस बाईपास का निर्माण दो भागों में किया जाएगा. पहला भाग गोपालपुर गांव से सलीमगढ़ फोर्ट तक और दूसरा भाग सलीमगढ़-आईटीओ बाईपास से डीएनडी फ्लाइओवर तक होगा. मुकरबा चौक की ओर से आने वाला ट्रैफिक सीधे इस बाईपास रोड़ पर चढ़ सकता है. बाईपास से जिन्हें मुकरबा चौक जाना है, उनके सिग्नेचर ब्रिज लूप के ऊपर से एक दूसरा एलिवेटिड लूप बनाया जाएगा, ताकि यह ट्रैफिक आउटर रिंग रोड़ पर उतर सके. इसी तरह से वजीराबाद रोड़ पर पूर्वी दिल्ली जाने के लिए दूसरा लूप बनाया जाएगा.

यह भी पढ़े -   दिल्ली में महंगा हुआ ऑटो और टैक्सी में सफर करना, इतने रूपये बढ़ाया गया किराया

आईटीओ ब्रिज को कनेक्ट करने के लिए भी दो एलिवेटिड लेफ्ट टर्न स्लीप रोड़ बनाए जाएंगे. एक स्लीप रोड़ बाईपास से आने वाले ट्रैफिक को विकास मार्ग पर जाने के लिए और दूसरा स्लीप रोड़ विकास मार्ग से आने वाले ट्रैफिक को बाईपास रोड़ पर चढ़ने के लिए होगा. यहां से बाईपास रोड़ के आगे जाने पर इसे NH- 24 से भी कनेक्ट किया जाएगा. इसके आगे बारापुला फ्लाइओवर से भी इसे दो लूप के माध्यम से कनेक्ट किया जाएगा. एक लूप बारापुला से बाईपास रोड़ पर आने के लिए तथा दूसरा बारापुला पर जाने के लिए होगा. इसके आगे डीएनडी फ्लाइओवर से यह बाईपास कनेक्ट हो जाएगा. यहां भी डीएनडी को कनेक्ट करने के लिए दो लूप का निर्माण किया जाएगा.

यह भी पढ़े -   Pm Kisan: पीएम किसान निधि पर बड़ा अपडेट, इन दिन जारी होंगे 12वी किस्त के पैसे

क्या है बाईपास रोड़ बनाने का मकसद

दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि आउटर रिंग रोड़ और रिंग रोड़ पर पिछले कुछ सालों में ट्रैफिक बहुत अधिक बढ़ गया है, जिससे इन मार्गों पर भी जाम की स्थिति उत्पन्न होने लगी है. इससे पहले कि यहां ट्रैफिक वॉल्यूम आवश्यकता से अधिक हो और लोगों की मुश्किलें बढ़ें, इसको देखते हुए बाईपास रोड़ बनाने की योजना बनाई गई है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!