न कार है और न कभी दिल्ली गया, फिर भी हिसार के कारपेंटर को दिल्ली पुलिस ने भेजा ई चालान

हिसार । हरियाणा के हिसार जिले में एक अजीबोगरीब वाक्या सुनने को मिला है. यहां पर रायपुर रोड़ पर स्थित विशाल नगर में रहने वाले एक व्यक्ति के पास दिल्ली पुलिस ने तेज गति से गाड़ी चलाने की एवज में 2000 रुपए का चालान भेजा है. चालान के साथ जो कार की तस्वीर भेजी गई है, उसमें उनकी बाइक का नंबर लिखा हुआ है. इस व्यक्ति का कहना है कि न तो वह कभी दिल्ली गया है और न ही उनके परिवार से कोई दिल्ली गया है. फिर भी दिल्ली पुलिस की तरफ से जो चालान भेजा गया है,वो उनकी समझ से परे है.

यह भी पढ़े -   किसान आंदोलन से जुड़े दुष्कर्म मामले में पुलिस को सबूत देने से पहले मृत युवती के पिता लापता

fotojet 18

व्यक्ति पेशे से कारपेंटर है और उसका नाम सुरेन्द्र है.बाईक का रजिस्ट्रेशन भी उन्हीं के नाम है. इस मामले को लेकर जब उन्होंने मिल गेट थाना प्रभारी से बात की तो उन्होंने उसे ट्रेफिक पुलिस के पास भेज दिया. ट्रेफिक पुलिस के अधिकारियों ने उसे इस मसले को लेकर दिल्ली जाने के लिए कहां है. पीड़ित सुरेन्द्र का कहना है कि उनकी कोई गलती नहीं है, फिर भी बेवजह की परेशानी झेलनी पड़ रही है. ऐसी ही एक घटना हिसार के अर्बन एस्टेट में रहने वाले व्यक्ति के साथ भी हुई है, उसको भी इसी तरह का चालान भेजा गया है.

यह भी पढ़े -   किसान आंदोलन में महिलाओं के शोषण पर भड़की पहलवान बबीता फौगाट, जाने क्या कहा

हिसार नगर निगम की कचरा ढोने वाली गाड़ी का भी बिहार के गया में चालान काट कर नगर निगम के एसई के पास भेजा हुआ है. चालान की सुचना मिलने पर जब जांच की गई तो गाड़ी दमकल केन्द्र में खड़ी मिली.
लम्बे समय तक हिसार ट्रैफिक प्रभारी रहे अतर सिंह से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि यह केवल फ्रोड का केस है. पीड़ित व्यक्ति को जल्दी से SDM Office में शिक़ायत दर्ज करवानी चाहिए व शिकायत की एक कापी SP Office में देनी चाहिए. अगर वह ऐसा नहीं करेगा तो उसको बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!