इस कारण हुई थी Sidhu Moosewala की हत्या, लॉरेंस बिश्नोई ने बताया सच

नई दिल्ली | गायक Sidhu Moosewala की हत्या में अब एक नया मोड़ सामने आया है. दरअसल, गिरफ्तार गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से पूछताछ के दौरान पंजाब पुलिस को मूसेवाला की हत्या की एक नई वजह पता चली है. गौरतलब है 29 मई को मूसेवाला की मानसा के पास ताबड़तोड़ फायरिंग कर हत्या कर दी गई थी.

Sidhu Moose Wala

अपने गीतों से उकसाता था मूसेवाल- लॉरेंस

बता दें कि पुलिस लॉरेंस बिश्नोई को सिद्धू मूसेवाला की हत्या में दिल्ली से पूछताछ के लिए लाई थी. पूछताछ के दौरान पहले लॉरेंस लगातार एक ही बात कह रहा था कि उसके गैंग ने मोहाली में विक्की मिड्डूखेड़ा की हत्या का बदला लेने के लिए मूसेवाला की हत्या की है. जो लॉरेंस का कॉलेज का दोस्त था, लेकिन अब उसने हत्या का एक नया कारण बताया है. गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का कहना है कि – ”मूसेवाला अपने गीतों के जरिए हमें उकसाता था. गीतों में हथियार दिखाते हुए ताल ठोक कर हमें चुनौती देता था, इसलिए हमने उसकी हत्या कर दी.”

मूसेवाल की हत्या के लिए नहीं दी थी सुपारी

पुलिस सूत्रों की माने तो बिश्नोई का कहना है कि उसने मूसेवाला की हत्या के लिए किसी को भी सुपारी नहीं दी. हालांकि अब तक यही माना जा रहा था कि बिश्नोई ने गोल्डी बराड़ को मूसेवाला की हत्या का जिम्मा सौंपने से पहले दिल्ली के गैंगस्टर हाशिम को इस काम की सुपारी दी थी. गौरतलब है कि गैंगस्टर हाशिम भी लॉरेंस के साथ ही दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद था. इसलिए उसने हत्या का काम अपने गुर्गे शाहरुख को सौंपा, जो मूसेवाला की रेकी करने गांव मूसा आया था, लेकिन कड़ी सुरक्षा को देखते हुए वह वारदात को अंजाम नहीं दे सका.

यह भी पढ़े -   देशभर में अब निजी कंपनियां ही बनाएंगी नेशनल हाईवे, यहाँ पढ़े सरकार ने क्यों किया बदलाव

लीवर और फेफड़ो में गोली लगने से हुई मौत

थार गाड़ी में सवार मूसेवाला पर अंधाधुंध शूटरों ने जमकर फायरिंग की थी जिस कारण मूसेवाल की लीवर और फेफड़ों में भी गोली लगी थी. जिससे उनकी मौत हो गई. पुलिस की जानकारी के अनुसार इस फायरिंग में 25 गोलियां थार गाड़ी को लगी थी और कई गोलियां घटनास्थल के आसपास दीवारों पर जिसके बाद इन गोलियों को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा गया था.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!