NHAI के इस कदम से टोल प्लाजा पर इंतजार करना होगा खत्म, फटाफट होगी FasTag ट्रांजेक्शन

नई दिल्ली | चमचमाते हाइवे और एक्सप्रेस-वे पर सफर करना किसे पसंद नहीं है. बता दें कि इसी से जुड़ी एक राहत भरी खबर सामने आई है. नेशनल हाईवे ऑथोरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने टोल प्लाजा पर आईटी सिस्टम्स और हार्डवेयर में बड़े बदलाव का आदेश जारी किया है. इससे FasTag ट्रांजेक्शन अभी के मुकाबले और तेजी से होगा. एनएचएआई के इस कदम से टोल प्लाजा पर लगने वाले ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी.

FasTag

सर्टिफाइड मैन्युफैक्चरर्स के इक्विपमेंट

वर्तमान समय की बात करें तो कई टोल प्लाजा पर लगे डिवाइस FasTag को अक्सर रीड नहीं कर पाते हैं जिसके चलते टोल प्लाजा कर्मचारियों को हैंडहेल्ड डिवाइस से टैग को स्कैन करना पड़ता है, जिसमें काफी समय खराब होता है. अब NHAI अच्छे एक्सपीरियंस वाली कंपनियों को अपने पैनल में रखेगी. इन्हें अब मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी के Standardisation Testing and Quality Certification (STQC) से सर्टिफाइड मैन्युफैक्चरर्स से ही इक्विपमेंट लेना होगा.

STQC सर्टिफिकेशन अनिवार्य

NHAI की टोल प्लाजा मैनेज करने वाली इकाई IHMCL के अनुसार अब RFID रीडर, ऐंटेना, ऑटोमैटिक नंबर प्लेट रीडर, टोल लेन कंट्रोलर और टोल प्लाजा सर्वर के लिए STQC अनिवार्य किया जाएगा. IHMCL के नए स्पेसिफिकेशन्स के अनुसार सिस्टम इंटीग्रेटर्स को IHMCL को एक अंडरटेकिंग देना होगा, जिसके अनुसार टोल प्लाजा पर इक्विपमेंट के कारण कोई भी गड़बड़ी होने पर इन्हें तुरंत पैनल से सस्पेंड कर दिया जाएगा.

ऑटोमैटिक रिचार्ज होगा FasTag

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 7 जून को हुई मॉनिटरी पॉलिसी मीटिंग में ई-मैंडेट के लिए नए फ्रेमवर्क का ऐलान किया था. यह Fastag और नैशनल मोबिलिटी कार्ड के लिए ऑटोमैटिक रिचार्ज की सुविधा प्रदान करेगा. ऑटोमैटिक रिचार्ज के लिए ग्राहकों को वीकली, मंथली और डेली का ऑप्शन मिलेगा.

ऑटोमैटिक रिचार्ज के लिए ग्राहक को एक अमाउंट सेट करना होगा. बैलेंस के इस अमाउंट पर पहुंचते ही FasTag अपने आप रिचार्ज हो जाएगा. ग्राहक रेग्युलर और रेकरिंग पेमेंट ट्रांजैक्शन के लिए अपने डेबिट कार्ड पर ई-मैंडेट सेटअप कर सकते हैं.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!