नीरज चोपड़ा की राही चला हरियाणा का एक और लाल, गोल्ड मेडल जीतकर पापा का सपना किया पूरा

पानीपत । पानीपत जिलें के गांव उग्राखेड़ी निवासी राजेंद्र मलिक ने खुली आंखों से सपना देखा था कि देश के लिए दौड़ में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदक जीतूं लेकिन घर के आर्थिक हालात आड़े आ गए. फिर खेल कोटे से फौज की नौकरी मिल गई तो उसी दिन ठान लिया कि बेटे को ऐसा एथलीट बनाउंगा कि पदक जीतकर देश का नाम रोशन कर सकें. चुनौतियों बहुत ज्यादा थी लेकिन कदम नहीं लड़खड़ाए. घर में ही जिम तैयार किया और गांव के स्टेडियम में कोच न होने के कारण बेटे को खुद ही जैवलिन थ्रो का प्रशिक्षण दिया.

player

सपना पूरा करने के लिए झौंकी पूरी ताकत

पिता के सपने को पूरा करने के लिए बेटे विक्रांत मलिक ने कड़े परिश्रम का रास्ता चुन लिया और 81 वीं ऑल इंडिया इंटर यूनिवर्सिटी एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 में 77.82 मीटर जैवलिन थ्रो फेंक गोल्ड मेडल जीता. यह प्रतियोगिता 7 जनवरी से मैंगलोर यूनिवर्सिटी के एलसास कालेज में शुरू हुई थी. गोल्ड मेडल की रेस में विक्रांत मलिक ने देश के नामचीन जैवलिन थ्रोअर हरियाणा के यशवीर सिंह, यूपी के रिषभ नेहरा और पंजाब के कुंवर अजय राज को पछाड़ते हुए कामयाबी हासिल की.

बनाया यूनिवर्सिटी रिकॉर्ड

इस टूर्नामेंट से पांच दिन पहले ही विक्रांत मलिक ने एलसास कालेज से खेलते हुए 78.28 मीटर थ्रो कर यूनिवर्सिटी के लिए रिकॉर्ड कायम किया था. अब विक्रांत अप्रैल में होने वाले फेडरेशन कप व इसके बाद जून में होने वाली विश्व यूनिवर्सिटी एथलेटिक्स चैंपियनशिप की तैयारी में जुट गए हैं. पिता राजेंद्र मलिक ने कहा कि बेटे ने गोल्ड मेडल जीतकर बड़ी खुशखबरी दी है. अब इंटरनेशनल टूर्नामेंट में खेलने का अवसर मिला है. कड़ी मेहनत और सच्ची लगन से बेटा उनके देखें सपनों को साकार कर रहा है. बेटे की कामयाबी पर गर्व है.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के मुख्य सचिव की बैठक, जिलाधिकारियों को भू-मालिकों के लिए दिए ये निर्देश

विक्रांत मलिक ने कहा कि गोल्ड मेडल जीतने की बहुत खुशी है. इनाम की राशि से एक अच्छी जैवलिन खरीदूंगा. कड़े परिश्रम से तकनीक में सुधार कर फेडरेशन कप में 80 मीटर से ज्यादा थ्रो करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

ये हैं विक्रांत की उपलब्धियां

• 73.85 मीटर थ्रो कर गोल्ड मेडल जीतकर कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी का रिकार्ड बनाया.

यह भी पढ़े -   हरियाणा के गृह मंत्री ने अपराधियों को दी सख्त चेतावनी, पुलिस वालों पर भी होगी कार्रवाई

• आल इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स में गोल्ड मेडल.

• जूनियर नेशनल एथलेटिक्स चैंपियनशिप में दो रजत पदक.

• 14 अक्टूबर 2021 को उत्तर प्रदेश के मोदीनगर में हुई अंतरराज्यीय जैवलिन थ्रो में 79.50 मीटर थ्रो कर गोल्ड मेडल जीता.

• 14 नवंबर को यूपी के मुजफ्फरनगर में हुई अंतरराज्यीय जैवलिन थ्रो चैंपियनशिप में 78.60 मीटर जैवलिन थ्रो कर गोल्ड मेडल जीता.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!