हरियाणा के इस जिलें में 7 साल बाद होगा NEET Exam, 2015 में इस वजह से रद्द करनी पड़ी थी परीक्षा

रोहतक । आल इंडिया प्री- मेडिकल परीक्षा के लिए 3 मई 2015 को देशभर के विभिन्न सेंटरों पर परीक्षा आयोजित हुई थी. इस परीक्षा के लिए रोहतक में भी सेंटर बनाए गए थे लेकिन यहां पेपर लीक हो गया जिसके चलते परीक्षा रद्द करनी पड़ी. इसके बाद सात साल हो गए थे लेकिन रोहतक में परीक्षा सेंटर नहीं बनाया गया था लेकिन अब 17 जुलाई 2022 को हो रही नीट परीक्षा (Neet Exam 2022) के लिए फिर से रोहतक में परीक्षा सेंटर बनाए जा सकते हैं.

यह भी पढ़े -   हरियाणा: खूंखार कैदियों के लिए इस जिलें में बन रही है हाइटेक जेल, पीएम सुरक्षा जैसे होंगे आधुनिक इंतजाम

STUDENT

फिलहाल परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थी ऑनलाइन फार्म भर रहे हैं. परीक्षा में शामिल होने के बाद रजिस्ट्रेशन कराने की अंतिम तिथि 6 मई है. परीक्षा सेंटर चयन के लिए अभ्यर्थियों को चार शहरों के ऑप्शन भरने है, जिनमें इस बार रोहतक का नाम भी शामिल हैं.

रोहतक में परीक्षा सेंटर बनेंगे या नहीं, इस पर अंतिम निर्णय केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा लिया जाएगा लेकिन अभ्यर्थियों को परीक्षा सेंटर की लिस्ट में रोहतक का नाम साल 2015 के बाद अब मिला है. फिलहाल रोहतक में परीक्षा सेंटर बनेंगे या नहीं, इसका फैसला पुलिस प्रशासन से फीडबैक लेने के बाद ही सीबीएसई बोर्ड द्वारा लिया जाएगा.

यह भी पढ़े -   दिल्ली पुलिस हेड कांस्टेबल के लिए 17 मई को जारी होगी अधिसूचना, जाने भर्ती से जुड़ी योग्यता और चयन प्रक्रिया

रोहतक पुलिस ने किया था भंडाफोड़

3 मई, 2015 को परीक्षा सम्पन्न होने के बाद रोहतक पुलिस ने पेपर लीक मामले का खुलासा किया था. पुलिस ने पेपर लीक गिरोह से जुड़े चार लोगों को हिरासत में लिया था. गिरोह सदस्यों के मोबाइल फोन से पुलिस ने आंसर की बरामद की थी. पेपर लीक में शामिल लोगों ने मोबाइल से आंसर की इधर- उधर भेजी, जिसके ठोस सबूत पुलिस के हाथ लगे थे.

यह भी पढ़े -   Delhi Police Vacancy: SSC ने जारी किया दिल्ली पुलिस हेड कांस्टेबल का नोटिफिकेशन, महिला पुरुष दोनों करें आवेदन

पुलिस ने पेपर लीक मामले का भंडाफोड़ करने के बाद परीक्षा को रद्द करवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ा. कोर्ट ने पुलिस की दलीलें सुनने के बाद परीक्षा को रद्द करने का फैसला सुनाया. इसके बाद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए बारीकी से जांच शुरू की और देश के विभिन्न हिस्सों से पेपर लीक गिरोह के कई सदस्यों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की थी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!