किसानों ने दुष्यंत चौटाला के आवास का किया घेराव, दुष्‍यंत चौटाला बोले- सख्‍त कार्रवाई होगी

 सिरसा । केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए 3 नए कृषि कानूनों के विरुद्ध किसानों ने होली के दिन भी जमकर विरोध प्रदर्शन किया. हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के आवास के सामने किसान सभा से जुड़े बड़ी संख्या में किसान पहुंच गए और जमकर नारेबाजी की. किसानों ने कहा कि किसान आंदोलन में 300 से ज्यादा किसानों की मृत्यु हो गई है और यहां डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला लड्डू बांट रहे हैं.

dushant chautala office kisan news

विरोध प्रदर्शन करने वाले किसानों ने कहा कि डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के घर के आगे से टेंट हटाया जाए. किसान नेता गुरप्रीत सिंह, रणधीर जोधका, हरविंदर सिंह, लखविंदर सिंह ने कहा कि पिछले 4 माह से किसान आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन सरकार किसानों की तरफ ध्यान नहीं दे रही है. डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के आवास पर किसानों के विरोध को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात रहा.

यह भी पढ़े -   400 सबसे अधिक प्रभावित गांवों में लोगों की स्क्रीनिंग कराएगी हरियाणा सरकार

इस दौरान सिविल थाना प्रभारी जितेंद्र सिंह, डीएसपी मुख्यालय आर्यन चौधरी किसानों को समझाते हुए नजर आए, परंतु किसानों ने अपनी जिद नहीं छोड़ी और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के घर के दूसरी ओर सड़क के बीचो बीच बैठे रहे और धरना देते रहे. डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला के आवास की ओर जाने वाले इस रास्ते को पुलिस द्वारा बैरिकेड जाकर बंद किया हुआ है और यहां पर हमेशा भारी पुलिस बल तैनात रहता है. रविवार शाम को दुष्यंत चौटाला सिरसा पहुंचे थे.

यह भी पढ़े -   हरियाणा में पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर लगी आग, रिकॉर्ड स्तर पर पंहुचा दाम

किसान आंदोलन ले रहा राजनीतिक रूप

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसान आंदोलन की आड़ में कुछ लोग राजनीतिक लाभ लेने के इच्छुक हैं. हरियाणा सरकार नहीं चाहती कि राज्य में माहौल तनावपूर्ण हो, इसलिए बॉर्डर पर बैठे किसानों को सहायता भी पहुंचाई जा रही है. शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन करना सभी का अधिकार है परंतु यदि कोई तनाव पैदा करने की कोशिश करेगा तो सरकार उससे सख्ती से निपटे गी.

यह भी पढ़े -   पत्नी-बेटे व हनीप्रीत से मिलने की जिद करता रहा राम रहीम, इस वजह से पुलिस ने पूरी नहीं की ख्वाहिश

दुष्यंत चौटाला देंगे मुंहतोड़ जवाब

दुष्यंत चौटाला अपने आवास पर रविवार को कार्यकर्ताओं से मिले. प्रेस मीडिया से बातचीत के दौरान दुष्यंत चौटाला ने कहा कि अब यह किसान आंदोलन राजनीतिक रूप लेने लगा है. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि फसल खरीद के दौरान सभी छह फसलों को एम एस पी पर खरीदवा कर वह ऐसे लोगों को मुंहतोड़ जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि आढ़ती भाइयों को ढाई प्रतिशत व्रत उनके के खेतों में दी जाएगी.

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!