नई खेल प्रतिभाओं को उभारने के लिए हरियाणा सरकार ने चलाई ‘खेलनर्सरी योजना’

चंडीगढ़ । हरियाणा सरकार नई खेल प्रतिभाओं को उभारने के क्षेत्र में लगातार कार्य कर रहा है। इसके लिए सरकार ने खेलनर्सरी योजना 2021 -22 चलाई है।  इसी कड़ी में खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग ने सरकारी, निजी शिक्षण संस्थानों एवं निजी खेल संस्थानों से खेल नर्सरी स्थापित करने के लिए आवेदन भी आमंत्रित कर दिए हैं। इसके साथ ही आवेदन की अंतिम तिथि भी जारी कर दी गयी है। सरकार ने बताया इसका उद्देश्य राज्य में प्रारंभिक रूप से खेलो को बढ़ावा देने तथा ग्रास रुट लेवल पर खेल प्रतिभाओ को उभारना है.

Sports

दरअसल, ओलम्पिक, एशियन एवं कॉमनवैल्थ खेलों में शामिल खेलों के लिए खेल नर्सरियां खोली जायेंगी । इसके साथ ही खेलनर्सरी योजना 2021 -22 खेलों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से सरकारी, निजी शिक्षण संस्थानों एवं निजी खेल संस्थानों से खेल नर्सरी स्थापित करने हेतु आवेदन आमंत्रित किये गए है। जिसकी अंतिम तारीख 20 जनवरी 2022 है। इच्छुक खिलाडी अपने आवेदन इस अंतिम तिथि तक दर्ज करा सकते है।

PM ने की तारीफ

वही हरियाणा के खिलाड़ियों की प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तारीफ भी की। पीएम ने खिलाड़ियों की प्रशंसा करते हुए लिखा -” ऐसे युवा जिनके अंदर मेडल लाने की योग्यता है, आज देश उन तक खुद पहुँच रहा है। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। वही आज देश में स्पोर्ट्स से जुड़े इंफ्रास्ट्रचर का भी विस्तार किया जा रहा है”

यह भी पढ़े -   हरियाणा के युवाओं के लिए रोजगार का अवसर, 30 हजार तक होगी सैलरी

इसके साथ ही सीएम खटटर जी ने लिखा -“हरियाणा के खिलाड़ियों ने अपनी खेल प्रतिभा से प्रदेश को अंतराष्ट्रीय खेल जगत में एक नई पहचान दी है। इसी खेल शक्ति को और अधिक सशक्त बनाने और नई खेल प्रतिभाओ को उभारने के लिए सरकार सदैव प्रयासरत है”

जानकारी के लिए बता दें खेल विभाग की ओर से इस बार खेल प्रशिक्षण केंद्रों पर खेल नर्सरी खोलने का फैसला ले लिया गया है।  इसके साथ ही नर्सरी में चयन के लिए खिलाड़ियाें के ट्रायल लेने का कार्य शुरू हो चुका है। इसके ट्रायल की अवधि 12 से 15 दिसंबर है। वही ट्रायल लिए जाने के बाद सभी प्रशिक्षण केंद्रों पर चयनित खिलाड़ियों की रिपोर्ट विभाग को भेज दी जाएगी। जिसके बाद खिलाड़ियों का फाइनल सलेक्शन होगा। इसके अलावा प्रत्येक खेल नर्सरी में कम से कम 20 से अधिक 25 खिलाड़ी होंगे। प्रत्येक खिलाड़ी के कम से कम 22 दिन हाजिर होने पर 8 से 14 साल के आयु वर्ग के 1500 और 15 से 19 साल के खिलाड़ियों को 2 हजार रुपये प्रति माह छात्रवृत्ति राशि दी जाएगी।

हमें Google News पर फॉलो करे- क्लिक करे! हरियाणा की ताज़ा खबरों के लिए अभी हमारे हरियाणा ताज़ा खबर व्हात्सप्प ग्रुप में जुड़े!